Congress : Urmila Matondkar ने छोड़ा पार्टी का साथ, जानिए क्या रही वजह !

urmila matondkar resign from the congress party today, she will join in this year
urmila matondkar resign from the congress party today, she will join in this yearurmila matondkar resign from the congress party today, she will join in this year

कांग्रेस (Congress) के लिए आज एक और बुरी खबर सामने आई है मुंबई नार्थ से कांग्रेस प्रत्याशी और बॉलीवुड अभिनेत्री उर्मिला मातोंडकर (Urmila Matondkar) ने कांग्रेस (Congress) से इस्तीफा दे दिया है।

उर्मिला मातोंडकर (Urmila Matondkar) ने कहा है कि मुंबई कांग्रेस बड़े लक्ष्यों पर ध्यान देने की जगह उनका इस्तेमाल कर राजनीति कर रही है। दरअसल 2019 के लोकसभा चुनाव में ही राहुल गाँधी ने उर्मिला को कांग्रेस ज्वाइन कराई थी।

दरअसल 2019 लोकसभा चुनाव के दौरान कई बॉलीवुड हस्तियों ने इस बार राजनीति में हाथ आजमाया है। आपको बता दें की 27 मार्च को उर्मिला मातोंडकर (Urmila Matondkar) ने कांग्रेस (Congress) का दामन थामा था। इस बार के लोकसभा चुनाव में ऐसी खबर भी सामने आई थी की उर्मिला और कांग्रेस के बीच कुछ अनबन हुई हो।

पहली बार राजनीति में हाथ आज़माने वाली उर्मिला मातोंडकर (Urmila Matondkar) ने बिना सोचे समझे ही कांग्रेस (Congress) ज्वाइन भी की थी। दरअसल उन्हें मुंबई के नार्थ से चुनाव लड़ा था और उनके खिलाफ भाजपा के गोपाल शेट्टी खड़े थे और अपने पहले ही चुनाव में उर्मिला को 4.6 लाख वोटों से हार का सामना करना पड़ा था।

वही कांग्रेस पार्टी ज्वाइन करते समय उर्मिला ने कहा था की “इस समय देश को ऐसे नेता की जरूरत है जो सबको साथ लेकर चले। वो ये न पूछे कि आप किस धर्म के हो किस जाति के हो। राहुल गांधी के बारे में बोलते हुए उर्मिला ने कहा कि उन्हें महिलाओं की कार्यक्षमता पर भी उतना ही भरोसा है जितना पुरुषों पर है, वह ऐसे नेता हैं जो सबको साथ लेकर चलते हैं।

जब भी चुनाव होते है तो उससे पहले ऐसी कई फ़िल्मी हस्तिया राजनीती में आती है और अब यह एक परम्परा की तरह लगाने लगा है, अक्सर हमने देखा है की चुनावी मौसम में पार्टिया ऐसे चेहरों पर दाव लगती है जो जनता के बीच काफी लोकप्रिय हो जिसके कारण उनका वोट बैंक बढ़ सके।

आपको बता दें की ये वही उर्मिला मातोंडकर है जिन्होंने अपनी ही पार्टी के कार्यकर्ताओं के खिलाफ पत्र लिखकर गंभीर आरोप लगाया थे, उर्मिला मातोंडकर ने मिलिंद देवड़ा को नौ पन्नों का एक पत्र लिखा था जिसमें यही लिखा तह की कार्यकर्ताओं द्वारा कमजोर प्लानिंग, प्रचार तंत्र की नाकामी के साथ जिला अध्यक्ष अशोक सूत्राले को जिम्मेदार ठहराया था।

Facebook Comments