Masood, Hafiz, Dawood, Zakiur rehman lakhvi गृहमंत्रालय ने बताया आतंकी !

Masood, Hafiz, Dawood, Zakiur rehman lakhvi these are all most wanted terrorist under new act 1967-
Masood, Hafiz, Dawood, Zakiur rehman lakhvi these are all most wanted terrorist under new act 1967

जैश-ए-मोहम्मदसरगना मसूद अजहर (Masood Azhar) और लश्कर-ए-तैयबा के संस्थापक हाफिज सईद (Hafiz Saeed) को सरकार ने नए आतंकवाद निरोधक कानून के तहत आज आतंकवादी घोषित किया। गृह मंत्रालय ने कहा कि अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम, मुंबई आतंकवादी हमले के आरोपी जकी-उर-रहमान-लखवी को भी आतंकवादी घोषित किया गया है। 

संसद के गैरकानूनी गतिविधियां (निरोधक) संशोधन कानून, 1967 में महत्वपूर्ण संशोधन को मंजूरी देने के करीब एक महीने बाद यह फैसला लिया गया। गृह मंत्रालय की एक अधिसूचना में कहा गया है, ‘केंद्र सरकार मानती है कि मौलाना मसूद अजहर आतंकवाद में शामिल है और मौलाना मसूद अजहर को उपरोक्त कानून के तहत आतंकवादी घोषित किया जाता है।’ 

भारत में कई आतंकी घटनाओं को दे चुके है अंजाम !

यह सारे आतंकी भारत में कई आतंकवाद (Terrorism) के मामलों में वांछित हैं और इनके पाकिस्तान (Pakistan) में शरण लिए होने के सबूत वक्त-वक्त पर सामने आते रहे हैं, ऐसा कहा जा रहा है कि भारत सरकार की इस कार्रवाई के बाद इन सभी आतंकियों और इन्हें शरण देने वाले पाकिस्तान के लिए मुश्किलें काफी बढ़ने वाली हैं।

पुलवामा हमले का आरोपी है मसूद अज़हर !

‘जैश-ए-मोहम्मद’ (Jaish-e-Mohammed) नाम के आतंकी संगठन का संस्थापक है, मसूद अजहर (Masood Azhar) का जन्मे 1968 में हुआ, आपको बता दें की इसे मौलाना मसूद अज़हर के नाम से भी जाना जाता है। सबसे ज्यादा इसने भारत पर आतंकी हमले किए है, भारत के अलावा इसका आतंकी संगठन अमेरिका, इंग्लैंड, कनाडा और ऑस्ट्रेलिया में भी सक्रिय है।

हालांकि जैश को संयुक्त राष्ट्र भी ब्लैकलिस्ट में डाल चुका है। सभी देशों अब ये तो पता चल ही चुका है की संगठन का संचालन पाकिस्तान से होता है, मसूद, भारतीय संसद (Indian Parliament) पर 2001 में हुए हमले, पठानकोट एयरबेस अटैक और हाल ही में हुए पुलवामा अटैक का मास्टरमाइंड है।

वही अगर बात करें हाफिज़ मुहम्मद सईद (Hafiz Saeed) की तो ये लश्कर-ए-तैयबा (Lashkar-e-Taiba) आतंकवादी संगठन का मुखिया है। वर्तमान में ये एक और आतंकवादी संगठन जमात-उद-दावा का भी कर्ताधर्ता है, मुंबई के 26/11 हमले की साजिश में मुख्य तौर पर इसका हाथ था। जिसके बाद से भारत लगातार पाकिस्तान पर ये दबाव बना रहा है की मसूद अजहर को भारत को सौप दिया जाए।

दाऊद इब्राहिम को भारत को सबसे बड़ा दुश्मन कहा जाता है !

दाउद इब्राहिम (Dawood Ibrahim) भारत का एक कुख्यात तस्कर है, जो की मूलरूप से भारत का है। 2003 में दाउद इब्राहिम को पकडने के लिए इंटरपोल द्वारा 2.5 करोड अमेरिकी डॉलर का इनाम तक घोषित किया गया था।

आपको बता दें की दाऊद इब्राहिम को भारत को सबसे बड़ा दुश्मन कहा जाता है, ये साल 1993 में मुंबई में हुए बम धमाकों (1993 Bombay Bombings) का मास्टरमाइंड था। 1993 के मुंबई सीरियल ब्लास्ट का गुनाहगार अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम भारत से सालों से दूर है।

दरअसल कई अन्य देश भी दाऊद को अभी तक ढूढ़ने में नाकाम रहे है, लेकिन भारत की सुरक्षा एजेंसियों का कहना है कि वो पाकिस्तान के कराची में नूराबाद हिल्स के आलीशान बंगले में भारी सुरक्षा के बीच रहता है।

जकी-उर रहमान लखवी लखवी भी 2008 में मुंबई हमले का प्लानर था !

जकी-उर रहमान (Zaki-ur-Rehman Lakhvi) लखवी भी लाशकरे-ए-तैयबा संगठन से ही ताल्लुक राखता है दरअसल 2008 में हुए मुंबई 26/11 हमले का प्लानर भी रह चुका है ये भी खतरनाक आतंकियों में से एक है, लखवी पर 2006 में मुंबई रेल नेटवर्क में धमाका करने का आरोप भी है जिसमें करीब 200 लोगो की मौत हो गई थी और 700 से अधिक घायल हो गए थे।

वही पिछले महीने कश्मीर (Kashmir) का विशेष दर्जा (Special Status) खत्म किए जाने के बाद एक रिपोर्ट सामने आई थी, जिसमें दावा किया गया था कि मुंबई हमले का मास्टरमाइंड जकी-उर रहमान लखवी पीओके (PoK) में बैठकर आतंकी हमले की साजिश रच रहा है।

Facebook Comments