Congress : मोदी सरकार ने देश को आर्थिक आपातकाल और दिवालिया किया !

Congress, Modi government has made the country an economic emergency and bankrupt!
Congress, Modi government has made the country an economic emergency and bankrupt!

भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) द्वारा केंद्र सरकार को लाभांश और अधिशेष कोष के मद से 1.76 लाख करोड़ रुपये हस्तांतरित करने के निर्णय को लेकर कांग्रेस (Congress) ने आज नरेंद्र मोदी सरकार पर देश को आर्थिक आपातकाल और दिवालियेपन की तरफ धकेलने का आरोप लगाया।

कांग्रेस ने कहा कि सरकार एक सप्ताह के भीतर अर्थव्यवस्था की स्थिति पर श्वेतपत्र लाए पार्टी के वरिष्ठ नेता आनंद शर्मा ने कहा कि आरबीआई से जुड़ा निर्णय इस बात का प्रमाण है कि भारत की अर्थव्यवस्था गहरे संकट में है, लेकिन सरकार लोगों का ध्यान भटकाने की कोशिश कर रही है।

उन्होंने संवाददाताओं से कहा, भारत एक गहरे आर्थिक संकट में है। देश की अर्थव्यवस्था चरमरा गई है। जीडीपी निरंतर गिर रही है। अर्थव्यवस्था के सभी सूचकांक नीचे हैं। रुपये का लगातार अवमूल्यन हो रहा है। वास्तव में भारत में बेरोजगारी 20 फीसदी से ऊपर है।

हर जानकार अर्थशास्त्री इससे सहमत होगा। लोगों को कर्ज भी नहीं मिल रहा है। देश का निर्यात जहां पांच साल पहले था वहीं अटका हुआ है। इसमें बढ़ोतरी नहीं हुई है। आरबीआई से पैसा लेने का निर्णय खतरनाक है।

आगे उन्होंने कहा, इन्हें कुछ समझ नहीं आ रहा। देश को आर्थिक आपातकाल और दिवालियेपन की तरफ धकेल दिया। शर्मा ने कहा कि प्रधानमंत्री और वित्त मंत्री अब इस स्थिति को नकार नहीं सकते। सरकार एक सप्ताह के भीतर अर्थव्यवस्था की स्थिति पर श्वेतपत्र लाए।

इससे पहले पार्टी के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने सवाल किया कि क्या आरबीआई से मिले इस पैसे का इस्तेमाल भाजपा के पूंजीपति मित्रों (क्रोनी फ्रेंड्स) को बचाने के लिए होगा।

वही कांग्रेस के नेता ने PM मोदी की तारीफ करके मुसीबत को दावत दे दी है, दरअसल थरूर ने कहा, ‘मैं नरेंद्र मोदी सरकार का एक कठोर आलोचक रहा हूं और मुझे उम्मीद है कि मैंने यह काम पूरी रचनात्मकता से किया है।

समावेशी मूल्यों और संवैधानिक सिद्धांतों के कारण ही मैंने लगातार 3 बार चुनाव जीता है। मैंने अपने कांग्रेस के साथियों से निवेदन करता हूं कि मेरे विचारों की कद्र करें, यदि वे उससे सहमत नहीं हैं तो भी।’

जिसके बाद रल प्रदेश कांग्रेस कमिटी ने पीएम मोदी की प्रशंसा करने पर शशि थरूर से स्‍पष्‍टीकरण मांगा है। यही नहीं राज्‍य नेतृत्‍व ने कांग्रेस आलाकमान से भी थरूर की शिकायत करने का फैसला किया है। केपीसीसी के अध्‍यक्ष मुल्‍लाप्‍पल्‍ली रामचंद्रन और राज्‍य में विपक्ष के नेता रमेश चेन्नितला ने थरूर के बयान का खुलकर विरोध किया।

Facebook Comments