PM Modi से बात करने के बाद Trump ने Imran को कहा कश्मीर मुद्दे को न उछाले !

After talking to PM Modi, Trump told Imran please do not creates problem with each other
After talking to PM Modi, Trump told Imran please do not creates problem with each other

केंद्र सरकार के जम्मू-कश्मीर पुनर्गठन के फैसले पर पाकिस्तान कई दिनों से बौखलाया हुआ है जिसके बाद कल PM मोदी (PM Modi) ने अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प (Donald Trump) से फ़ोन पर बात की, जिसके बाद ट्रम्प ने पाक्सितान के PM इमरान खान (Imran Khan) को कश्मीर मुद्दे पर नसीहत दी है।

आपको बता दें की डोनाल्ड ट्रम्प (Donald Trump) ने इमरान खान (Imran Khan) को और उनके नेताओं को भारत के खिलाफ संभल कर बयानबाजी करने को कहा है, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से फोन पर करीब 30 मिनट बात करने के बाद उन्होंने खान से बात की थी।

PM मोदी ने ट्रम्प से की बातचीत !

PM मोदी ने बातचीत के दौरान पाकिस्तानी नेताओं द्वारा भारत विरोधी हिंसा के लिए उग्र बयानबाजी और उकसावे का मुद्दा उठाया। दरअसल इस बात की जानकारी खुद ट्रम्प ने ट्वीट कर दी है।

टेलीफोन पर आधे घंटे की बातचीत में PM मोदी ने पाकिस्तान का नाम लिए बगैर उस पर क्षेत्र की शांति भंग करने और तनाव बढ़ाने का आरोप लगाया। मोदी ने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान का नाम लिए बगैर ट्रम्प से कहा, क्षेत्र में कुछ नेता भारत विरोधी हिंसा और भड़काऊ बयानबाजी को बढ़ावा दे रहे हैं, जो क्षेत्र की शांति के लिए ठीक नहीं है। 370 हटने के बाद पहली बार मोदी और ट्रंप में बातचीत हुई है।

ट्रम्प ने इमरान खान से की बात !

PM मोदी से बात करने के बाद ट्रम्प ने पाकिस्तान के PM इमरान खान को फ़ोन किया और ट्रम्प ने इमरान को तीखी बयानबाजी से बचने को कहा। दोनों नेताओं से बात के बाद ट्रंप ने क्षेत्र में स्थिति को ‘कठिन’ बताते हुए कहा कि उनकी दोनों पीएम से अच्छी बात हुई है, आपको बता दें की एक हफ्ते में ट्रम्प ने और इमरान के बीच फ़ोन पर दूसरी बार बात हुई है।

दोनों नेताओ से बातचीत करने के बाद ट्रम्प ने खुद ट्वीट कर ये बताया की “आज राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ क्षेत्रीय विकास और अमेरिका-भारत रणनीतिक साझेदारी पर बात की। राष्ट्रपति ने भारत और पाकिस्तान के बीच तनाव कम करने और क्षेत्र में शांति बनाए रखने के महत्व को बताया।’

वही PM मोदी ने सीमापार से होने वाले आतंकवाद, द्विपक्षीय और क्षेत्रीय मामलों को लेकर बातचीत की। प्रधानमंत्री मोदी ने ट्रंप से कहा कि क्षेत्रीय परिस्थितियों के मद्देनजर यहां कुछ नेताओं द्वारा भारत विरोधी हिंसा, शांति के प्रयासों में बड़ी बाधा है। पाकिस्तान का नाम लिए बिना मोदी ने आतंकवाद का मुद्दा उठाया।

क्या है पूरा मामला ?

दरअसल गृह मंत्री अमित शाह ने 5 अगस्त को इतिहास से चली आ रही एक प्रथा को तोड़ते हुए जम्मू-कश्मीर से धारा 370 और धारा 35A को हटा दिया था, जिसके बाद कई विपक्षी दलों ने बीजेपी सदन में जमकर हंगामा किया था।

वही पड़ोसी देश पकिस्तान ने इस मुद्दे पर अमेरिका, चीन, रूस यहां तक की उसने यूनाइटेड नेशन तक से मदद मांगी लेकिन सब ने इस मुद्दे पर भारत का साथ देते हुए पाकिस्तान को मना कर दिया।

Facebook Comments