Sikkim में बीजेपी ने मारा हाथ, चामलिंग की पार्टी के दस विधायक भाजपा में शामिल !

भाजपा के कार्यकर्ताओं की लिस्ट लम्बी ही होती चली जा रही है, 2019 के लोकसभा चुनाव से पहले भी बीजेपी ने कई अभिनेता समेत कई चर्चित नेताओ को भी अपनी पार्टी से टिकट दिया था, वही कल बबीता फोगाट और महावीर फोगाट ने भी बीजेपी जॉइन की थी और आज बीजेपी ने सिक्किम में हाथ मारा है।

सिक्किम {Sikkim} की प्रमुख पार्टी सिक्किम डेमोक्रेटिक फ्रंट (SDF) के 10 विधायक आज भारतीय जनता पार्टी में शामिल हो गए, दरअसल पूर्व CM पवन कुमार चामलिंग सहित 4 अन्य विधायकों को छोड़कर शेष सभी विधायकों ने दिल्ली आकर बीजेपी की सदस्यता ली।

बीजेपी के कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा और महासचिव राम माधव ने उन्हें पार्टी की सदस्यता दिलाई, सिक्किम में बीजेपी अभी तक अपना खाता नहीं खोल पाई थी, लेकिन एसडीएफ के 10 विधायकों के पार्टी ज्वॉइन करने के बाद बीजेपी की ताकत बढ़ गई है.

आपको बता दें की सिक्किम डेमोक्रेटिक फ्रंट ने सिक्किम में 25 सालों तक शासन किया, सिक्किम विधानसभा चुनाव 2019 में पवन कुमार चामलिंग की पार्टी एसडीएफ के 15 विधायक जीते थे। वहीं, बीजेपी का खाता भी नहीं खुला था, लेकिन एसडीएफ के 15 में से 10 विधायकों के पार्टी ज्वॉइन करने से बीजेपी एक ही झटके में जीरो से 10 हो गई है।

सिक्किम के इन विधायकों का पार्टी में स्वागत करते हुए भाजपा महासचिव राम माधव ने संवाददाताओं से कहा कि सिक्किम में पिछले 25 वर्षों से सत्ता में रहे एसडीएफ को इस बार के विधानसभा चुनाव में 15 सीटों पर विजय मिली। इनमें से दो व्यक्ति दो दो सीटों पर विजयी हुए थे, इस प्रकार से सीटों की प्रभावी संख्या 13 थी।

आगे उन्होंने कहा कि इनमें से 10 विधायकों ने भाजपा में शामिल होने का निर्णय किया। इस विषय पर भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के मार्गदर्शन और कार्यकारी अध्यक्ष जे पी नड्डा के दिशानिर्देशन में इन विधायकों को भाजपा में शामिल किया गया है। अब सिक्किम में भाजपा सकारात्मक विपक्ष की भूमिका निभाएगी।

आपको बता दें प्रेम सिंह तमांग इस समय सिक्किम के मुख्यमंत्री हैं, इससे पहले पवन चामलिंग ने 1933 में एसडीएफ का गठन किया था, पार्टी ने उसके बाद से 1994, 1999, 2004, 2009, 2014 के विधानसभा चुनावों में पूर्ण बहुमत से सरकार बनाई। हालांकि, 2019 में हुए विधानसभा चुनावों में एसडीएफ को हार का सामना करना पड़ा।

Facebook Comments