रक्षा मंत्री Rajnath Singh का पाकिस्तान पर तंज: बोले, ऐसा पड़ोसी किसी को न मिले !

Defense Minister Rajnath Singh's taunt on Pakistan Nobody gets such a neighbour
Defense Minister Rajnath Singh's taunt on Pakistan Nobody gets such a neighbour

भारत सरकार द्वार अनुच्छेद 370 के हटाए जाने के फैसले के बाद पाकिस्तान बौखला गया है। दोनों देशों के बीच जारी तनाव पर रक्षा मंत्री Rajnath Singh ने पाकिस्तान को बिना कुछ कहे उस पर तंज कसा है उन्होंने कहा कि भगवान करें पाकिस्तान जैसा पड़ोसी किसी को न मिले, यही नहीं उन्होंने ये भी कहा कि आप दोस्त बदल सकते हैं, लेकिन पड़ोसी नहीं।

वही भारत सरकार के इस फैसले के बाद अब पाकिस्तान को ये डर भी सताने लगा है की कही उससे POK भी न छीन लिया जाए, तभी तो पाक के रक्ष अधिकारी ने इस मुद्दे पर बैठक भी बुलाई थी और इस बैठक में पाक PM इमरान खान को भी बुलाया गया था लेकिन वो नहीं पहुंचे थे।

आपको बता दें कि कश्मीर से अनुच्छेद 370 खत्म होने के बाद से पाकिस्तान में बौखलाहट देखने को मिल रहा है। उसने इस फैसले के मद्देनजर कल भारत से व्यापारिक और राजनायिक संबंध तोड़ लिया है और उसने ये कहा कि वो इस मामले को यूएन में भी उठाएगा, इसे लेकर वहां से लगातार कुछ न कुछ बयान आ रहे है।

इसी बीच राजनाथ सिंह ने यह बयान दिया है, उन्होंने कहा कि सबसे बड़ी आशंका तो हमें हमारे पड़ोसी के बारे में रहती है। समस्या ये है कि आप दोस्त बदल सकते हैं मगर पड़ोसी का चुनाव आपके हाथ में नहीं होता है और जैसा पड़ोसी हमारे बगल में बैठा, परमात्मा करें की ऐसा पड़ोसी किसी को न मिले।

दोनों देशो में इन सामान का आयात और निर्यात होता है

पाकिस्तान की ओर से भारत को कई उत्पादों का निर्यात किया जाता है, इसमें प्रमुख तौर पर निम्न सामान शामिल है। जैसे ताजे फल (जैसे अमरूद, आम और अनानास), सीमेंट, ड्राई फूड, बड़े पैमाने पर खनिज एवं अयस्क, तैयार चमड़ा, कच्चा कपास, मसाले, ऊन, रबड़ उत्पाद, अल्कोहल पेय, मेडिकल उपकरण, समुद्री सामान, प्लास्टिक, प्रसंस्कृत खाद्य, अकार्बनिक रसायन, मेडिकल उपकरण, समुद्री सामान।

वहीं भारत की ओर से पाकिस्तान को जो उत्पाद निर्यात किए जाते हैं, उनमें निम्न सामान शामिल हैं। जैसे चीनी, चाय, पेट्रोलियम ऑयल, कॉटन, टायर, रबड़, ऑयल केक, कच्चा कपास, सूती धागे, डाई।

पुलवामा हमले के बाद ही गिर गया था व्यापार

फरवरी में जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में सीआरपीएफ पर आतंकी हमले के बाद भारत ने पाकिस्तान के साथ द्विपक्षीय व्यापार निलंबित किया था। भारत ने पड़ोसी देश का एमएफएन दर्जा खत्म करते हुए उसके उत्पादों पर 200 फीसदी आयात शुल्क लगा दिया था। इसके चलते मार्च, 2019 में पाकिस्तान से भारत को किए जाने वाले निर्यात में करीब 92 फीसदी की कमी आ गई थी।

Facebook Comments