प्रियंका की हुंकार : मुझे क्यों गिरफ्तार किया ? पीड़ितों से मिले बिना नहीं जा सकती !

priyanka-gandhi-addresses-media-from-chunar-guest-house-says-she-will-go-to-sonbhadra

सोनभद्र जिले में भूमि विवाद में मारे गए लोगों के परिवार से मिलने जा रहीं कांग्रेस महासचिव को हिरासत में ले लिया गया और उसके बाद से ही उप की राजनीती गरमा गयी है ! योगी जी डेढ़ दिन के बाद सामने आये और कहा की सरकार कार्यवाही कर रही है !

हिरासत में लेने के बाद प्रियंका ने कहा कि वह पीड़ित परिवारों से मिले बिना नहीं जाएंगी, बता दें कि प्रियंका को मिर्जापुर के नारायण पुर चौकी के पास रोका गया था जहां से उन्हें हिरासत में लेकर चुनार गेस्ट हाउस लाया गया था.

प्रियंका ने कहा की वहां सोनभद्र में जो लोग अपना अधिकार मांग रहे थे, उनकी हत्या कर दी गई, गांव वालों की जमीन पर कब्जा करने आए थे, जिन जमीन को उन्होंने बरसों से सहेजा था, वहां कुछ लोग ट्रैक्टर लेकर कब्जा करने आ गए, जब गांववालों ने रोकने की कोशिश की तो 11 लोगों की हत्या कर दी गईं और उसमें तीन महिलाएं भी हैं.

आगे उन्होंने कहा की मैं अभी अस्पताल से आ रही हूं, वहां 6 लोग भर्ती है. एक 17 साल का बच्चा भी है उसे पेट में गोली लगी है और उसकी मां के सिर पर ईंट मारी गई, लाठी से हाथ तोड़ा गया तो ये है उत्तर प्रदेश की कानून व्यवस्था !

जब मैं मिलने जा रही थी तो मुझे रोक दिया गया, मुझे मिर्जापुर जाने की इजाजत नहीं दी गई जबकि वहां धारा 144 लागू भी नहीं है, आगे मैंने कहा- ऑर्डर दिखाइए, तो उनके पास ऑर्डर नहीं था.

इस पुरे मामले पर प्रियंका गाँधी ने ट्वीट भी किया है ! उन्होंने ट्विटर पर लिखा की उत्तर प्रदेश सरकार की ड्यूटी है अपराधियों को पकड़ना। मेरा कर्तव्य है अपराध से पीड़ित लोगों के पक्ष में खड़े होना।

भाजपा अपराध रोकने में तो नाकामयाब है मगर मुझे मेरा कर्तव्य करने से रोक रही है। मुझे पीड़ितों के समर्थन में खड़े होने से कोई रोक नहीं सकता। कृपया अपराध रोकिए!

Facebook Comments