राहुल गाँधी देना चाहते है पार्टी से इस्तीफा : कांग्रेस के लिए हुई असमंजस की स्थिति !

Rahul Gandhi wants to resign from the party: very critical situation and confusion for the Congress party !

2019 के लोकसभा चुनाव में अपने घोषणा पत्र में हर गरीब को सालाना 75 हज़ार देने का दावा करने वाली कांग्रेस पार्टी को इस बार के लोकसभा चुनाव में करारी हार का सामना करना पड़ा, वही अक्सर अपनी जनसभाओं में चौकीदार को चोर बताने वाले राहुल गाँधी अब अपनी पार्टी से इस्तीफा देने पर अड़े है.

Rahul said: During the Demonetisation, Modi ji locked the entire cabinet and also population!

हलाकि इससे पहले भी ये खबर आई थी की चुनाव हारने के बाद कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गाँधी पार्टी से इस्तीफा दे सकते है लेकिन तब ऐसा नहीं हुआ, जिसके बाद अब एक बार फिर से इस खबर ने जोर पकड़ा है और सूत्रों के हवाले खबर है की कांग्रेस ने सभी राज्यों में प्रदेश कमिटियों भंग कर दी है.

आपको बता दें की पार्टी ने उन्हें मनाने की भरपूर कोशिश की, लेकिन राहुल गांधी अपनी जिद पर अड़े हुए हैं, मां सोनिया गांधी और बहन प्रियंका समेत कई वरिष्ठ नेताओं के समझाने के बाद आखिरकार राहुल एक महीने के लिए अध्यक्ष बने रहने पर राजी हो गए थे.

राहुल इस दौरान वह पार्टी की किसी मीटिंग में भी शामिल नहीं हो रहे हैं, उन्होंने बड़े फैसलो से भी दूरी बना रखी है, वैसे आपको बता दें की कांग्रेस के नए अध्यक्ष के लिए कई वरिष्ठ नेताओं का नाम चर्चा में है लेकिन अभी तक की सूचि में राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के नाम को सबसे आगे बताया जा रहा है.

दरअसल सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, कांग्रेस कार्यसमिति (CWC) ने अध्यक्ष पद पर संभावित नाम फाइनल कर लिए हैं, इसे लेकर जल्द ही सीडब्ल्यूसी की मीटिंग होगी, जिसमें आखिरी बार राहुल गांधी से इस्तीफा देने से मनाने की कोशिशें भी की जाएंगी, इसके बाद भी अगर वह नहीं मानते हैं, तो नए अध्यक्ष का नाम फाइनल कर लिया जाएगा.

Facebook Comments