साध्वी प्रज्ञा की हुंकार : गाँधी को मारने वाला “गोडसे” देश भक्त था, आतंकी नहीं !

Sadhvi Pragya says Nathuram Godse, a true country devotee: who is telling her a terrorist, she first see herself!

मध्यप्रदेश के भोपाल से बीजेपी की उम्मीदवार और मालेगांव ब्लास्ट मामले में बेल पर बाहर साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर ने नाथूराम गोडसे को देशभक्त करार दिया है, उन्होंने अभिनेता कमल हासन के बयान पर प्रतिक्रिया देते हुए साध्वी प्रज्ञा ने कहा कि नाथूराम गोडसे देशभक्त थे, देशभक्त हैं और देशभक्त ही रहेंगे.

आगे उन्होंने कहा की उनको आतंकवादी कहने वाले लोगों को पहले अपने गिरेबां में झांककर देखना चाहिए, ऐसे लोगों को जनता इस बार के चुनाव में मुंहतोड़ जवाब जरूर देगी, वैसे जहां तक साध्वी प्रज्ञा के बयान का विषय है, तो वह उनका निजी बयान है.

दरअसल इस बार के लोकसभा चुनाव में नाथूराम गोडसे का जिक्र तब हुआ जब अभिनेता से नेता बने कमल हासन ने  अपनी पार्टी मक्कल निधि मय्यम के उम्मीदवार के लिए चुनाव प्रचार के दौरान कहा कि, आजाद भारत का पहला आतंकवादी एक हिंदू था और उसका नाम नाथूराम गोडसे, तमिलनाडु के अरवाकुरिची विधानसभा क्षेत्र में 19 मई को उप चुनाव हो रहे हैंऔर इसके लिए वे अपने उम्मीदवार के पक्ष में वोट मांग रहे थे..

आपको बता दें कि नाथूराम गोडसे ने महात्मा गांधी की गोली मारकर हत्या की थी, जिसके बाद गोडसे को फांसी की सजा दी गई थी, हालांकि साध्वी प्रज्ञा सिंह इससे पहले भी अपने बयानों को लेकर विवादों में घिर चुकी हैं और इससे पहले उन्होंने मुंबई हमले में शहीद हुए हेमंत करकरे को लेकर विवादित बयान दिया था.

Facebook Comments