TIME मैगज़ीन ने मोदी को बताया विभाजनकारी : मनीष सिसोदिया बोले ये टुकड़े टुकड़े गैंग का सरगना

pm-narendra-modi-on-america-time-magazine-cover-says-india-s-divider-in-chief

अमेरिकी पत्रिका टाइम ने अपने अंतरराष्ट्रीय संस्करण के कवर पेज पर नरेंद्र मोदी की तस्वीर के साथ काफी आपत्तिजनक शीर्षक लिखा है ! दरअसल इसमें प्रधानमंत्री को भारत का ‘डिवाइडर इन चीफ’ (फूट डालने वालों का मुखिया) करार दिया है जिसके बाद ही सोशल मीडिया पर इस बात को लेकर बहस छिड़ी हुई है की आखिर क्या वाकई में मोदी ‘डिवाइडर इन चीफ’ है !

नरेंद्र मोदी पर केंद्रित इस कवर स्टोरी को पत्रकार आतिश तासीर ने लिखा है। इससे पहले टाइम पत्रिका ने साल 2012 फिर साल 2015 में मोदी को अपने कवर पेज पर जगह दी थी। वहीं साल 2014, 2015 और 2017 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को दुनिया के 100 सबसे प्रभावशाली लोगों की सूची में शामिल किया था। मई 2015 में पत्रिका ने मोदी पर कवर स्टोरी की थी और उसे नाम दिया था- ‘Why Modi Matters’.

इस लेख पर दिल्ली के उप-मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने ट्वीट करते हुए मोदी का मजाक उड़ाया है ! उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा है की Divider in Chief को हिंदी में कहेंगे – टुकड़े टुकड़े गैंग का सरगना (ख़ासकर उन भक्तों के लिए समझना ज़रूरी है जो समझ रहे हैं कि टाइम्स मैगज़ीन के कवर पेज पर मोदी जी का फ़ोटो छपने से भारत का नाम रोशन हो रहा है)

आलेख में कहा गया है कि नरेंद्र मोदी ने साल 2014 में लोगों के गुस्से के देखते हुए आर्थिक वादे किए। उन्होंने नौकरी और विकास की बात की। लेकिन अब ये विश्वास करना मुश्किल लगता है कि वह उम्मीदों का चुनाव था। आलेख में कहा गया है कि मोदी द्वारा आर्थिक चमत्कार लाने के वादे फेल हो गए। यही नहीं उन्होंने देश में जहर भरा धार्मिक राष्ट्रवाद का माहौल तैयार करने में जरूर मदद की।

बता दे की इस लेख में 1984 के सिख दंगों और 2002 के गुजरात दंगों का भी जिक्र है। इसमें कहा गया है कि हालांकि कांग्रेस पार्टी का नेतृत्व भी 1984 के दंगों को लेकर आरोप मुक्त नहीं है लेकिन फिर भी इसने दंगों के दौरान उन्मादी भीड़ को खुद से अलग रखा। लेकिन नरेंद्र मोदी 2002 के दंगों के दौरान अपनी चुप्पी से ‘उन्मादी भीड़ के दोस्त’ साबित हुए।

Facebook Comments