“चौकीदार चोर है ” नारे पर राहुल गाँधी को मांगनी पड़ी माफ़ी : कोर्ट से बोले गलती से बोला था

raahul-apology-to-court-for-his-remark-about-narendra-modi-on-rafale-deal

पांच चरण के चुनाव के बाद 424 लोकसभा सीटों पर मतदान हो चुका है। आने वाले दो चरणों में बाकी 118 सीटों पर मतदान होना है, जिसके लिए राजनीतिक दलों ने अपनी पूरी ताकत झोंक दी है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपा अध्यक्ष अमित शाह की ताबड़तोड़ रैलियां जारी है, तो वहीं दूसरी ओर कांग्रेस, महागठबंधन, सपा-बसपा गठबंधन समेत हर छोटे बड़े दल जनसभाओं और जनसंपर्क कार्यक्रम में लगे हैं।

आपको बता दे की आज अवमानना मामले में राहुल गांधी ने सुप्रीम कोर्ट से बिना शर्त माफी मांगी। पहले राहुल ने सिर्फ खेद जताया था। राहुल ने कहा कि गलती से ‘चौकीदार चोर है’ नारा कोर्ट के आदेश के साथ मिलाकर बोल दिया था।

दरअसल सुप्रीम कोर्ट के हवाले से राहुल गाँधी यह बोल गए थे की अब तो कोर्ट ने भी माना है की चौकीदार चोर है, इस मामले में बीजेपी की नेत्री मीनाक्षी जी ने कोर्ट ने उनके खिलाफ आपराधिक अवमानना का केस जारी किया था जिस पर कोर्ट ने राहुल गाँधी के वकील अभिषेक मनु सिंघवी को फटकार लगाते हुए कहा था की आप कैसे कोर्ट की अवमानना कर सकते है ? इसके बाद आज खुद राहुल गाँधी ने ये माना है की उनसे गलती हुई है और उन्होंने अब माफ़ी मांग ली है !

बता दे की आज सुबह ही कांग्रेस के नेता  संजय निरुपम ने वाराणसी में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर विवादित बयान दिया है। निरुपम ने कहा कि मुझे लगता है कि जिस व्यक्ति को यहां के लोगों ने चुना है वह नरेंद्र मोदी औरंगजेब के आधुनिक अवतार हैं.

इससे पहले कल प्रियंका जी ने PM मोदी को प्रतीकात्मक रूप से दुर्योधन बताया और कहा कि उन्होंने मेरे शहीद पिता का अपमान किया है और मैं ये बर्दाश्त नहीं करुंगी, प्रियंका गांधी ने जनसभा को संबोधित करते हुए महाभारत के एक प्रसंग की चर्चा की और कहा कि घमंड तो दुर्योधन का भी टूट गया था, तो पीएम मोदी क्या चीज हैं.

Facebook Comments