‘मसूद अज़हर’ वैश्विक आतंकी घोषित : अरुण जेटली, निर्मला सीतारमण ने कहा भारत की बड़ी कामियाबी

भारत में जब से नरेंद्र मोदी प्रधानमंत्री बने है तब से भारत की चर्चा विदेशो में जोरो पर है इसकी सबसे बड़ी वजह है PM मोदी का विदेशो में जाकर दौरे करना और अपने देश के आपसी रिश्तों को मजबूत करना और मोदी जी ने कई देशो के साथ अपने सम्बन्ध सुधरे ही नहीं है बल्कि उन्हें मजबूती भी दी है हलाकि जब से मोदी जी PM बने है तब से उन्होंने अंतर्राष्ट्रीय मुद्दे में आतंकवाद पर ज्यादा जोर दिया है लेकिन फिर भी चीन की नहीं चली और उसे मुँह की खानी पड़ी.

आज उसी का परिणाम है की जैश-ए-महोम्मद के सरगनाहं “मसहूद अज़हर” को पुरे विश्व में एक बड़ा आतंकी घोषित किया है, जबकि चीन लगातार इस पर अपना अड़ंगा लगता रहा है और इससे पहले भी ‘मसूद अज़हर’ पर अपनी वीटो पावर का इस्तेमाल करके उसे बचता आया है लेकिन कल रात में ही मसहूद अज़हर को वैश्विक आतंकी घोषित कर दिया गया.

जिस पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने खुद ट्वीट कर लिखा की ‘आज पुर भारतीयों के लिए गर्व की बात है और साथ ही उन्होंने globel community को भी धन्यवाद देते हुए कहा की आपने मानवीय मूल्यों का ध्यान रखा और हमारा साथ दिया, भारत हमेश आतंकवाद के खिलाफ रहेगा ताकि देश-विदेश में भी शांति बनी रहे’ ..

आपको बता दें की संयुक्त राष्ट्र ने बुधवार को पाकिस्तान स्थित आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के सरगना मसूद अजहर को वैश्विक आतंकी घोषित कर दिया है, इसे भारत की बड़ी कूटनीतिक जीत बताया जा रहा है और इस मौके पर वित्त मंत्री अरुण जेटली और रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सराहना की है.

वित्तमंत्री अरुण जेटली ने कहा की जब देस जीतता है तो हर भारतीय जीतता है हमे इस मौके पर PM मोदी की सराहना करनी चाहिए, आगे उन्होंने कहा की यह बहुत दुर्भाग्यपूर्ण है कि विपक्ष के कुछ दोस्तों को लगता है कि अगर वे इस जीत में शामिल होंगे, तो उन्हें इसके लिए राजनीतिक कीमत चुकानी पड़ सकती है” वित्त मंत्री जेटली ने इसे भारत के लिए एक बड़ी कूटनीतिक जीत बताया है.

वहीं रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण का कहना है, “आतंकवाद को बर्दाश नहीं किया जाएगा और संयुक्त राष्ट्र की ओर से यह एलान उल्लेखनीय है। प्रधानमंत्री के नेतृत्व में विदेश मंत्रालय द्वारा किए गए उपायों और उनके स्वयं के दौरे के कारण ये हो पाया है”.

Facebook Comments