मोदी के खिलाफ एक नहीं हुए राहुल और केजरीवाल : नहीं होगा दिल्ली में गठबंधन, बीजेपी के लिए आसान हुई राह

लोकसभा चुनाव के दूसरे चरण के मतदान कल हो चुके है जिसमें कुल मिला कर 66 फीसदी वोटिंग हुई, और आज दिल्ली से एक नई खबर सामने आ रही है, आम आदमी पार्टी और कांग्रेस के बीच गठबंधन नहीं होगा हलाकि आज इस बात की अधिकारिक घोषणा हो सकती है.

congress-meeting-at-rahul-gandhi-house-in-delhi-may-declare-alliance-with-aap

जैसा की आपको मालूम है की कुछ दिन पहले ही अरविन्द केजरीवाल ने राहुल को लेकर एक ट्वीट किया था जिसमें  उन्होंने कहा था की राहुल को हमारे साथ गठबंधन नहीं करना है आप मात्र दिखावा कर रहे है जिसके बाद मनीष सिसोदिया ने ट्वीट कर बताया की हमने कांग्रेस से गठबंधन को लेकर संजय सिंह को नियुक्त किया है.

जिसके बाद कल आम आदमी पार्टी के नेता संजय सिंह ने ये बयान दिया था की गठबंधन अभी तक कांग्रेस पार्टी की वजह से नहीं हुआ है, हम ‘बीजेपी को रोकने के लिए गठबंधन करना चाहते थे, लेकिन कांग्रेस मूड में नहीं है सारे प्रयास के बावजूद कोई बात नहीं बनी’.

दरअसल कल कांग्रेस नेता व दिल्ली प्रभारी पीसी चाको कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से मिलने पहुंचे थे, आपको बता दें की दिल्ली में राहुल गांधी से मुलाकात में पीसी चाको ने आप से गठबंधन को लेकर काफी जोर आजमाइश की लेकिन फिर भी कोई बात नहीं बनी.

गठबंधन ना होने की वजह ये है की आम आदमी पार्टी  ने इस दौरान अपने 5-2 का फॉर्मूला सुझाया, जबकि कांग्रेस 4-3 के अपने फॉर्मूले पर अड़ी रही और आज कांग्रेस व आम आदमी पार्टी (आप) के बीच बीते करीब चार महीने से चल रही गठबंधन की चर्चा पर विराम लग गया है.

Facebook Comments