फिर एक बार मोदी सरकार : मोदी का वादा, आपने सेवा का मौका दिया तो धारा 370 हटेगी और राम मंदिर बनेगा

इस बार लोक सभा चुनाव कुछ ख़ास है क्यूंकि देश के राजनैतिक माहौल में इस वक़्त राहुल गाँधी और मोदी जी के बीच जो जंग देखने को मिली है वो शायद ही पिछले कुछ चुनावो में देखने को मिली हो ! एक तरफ राहुल गाँधी अपनी सभाओ में चौकीदार चोर है के नारे लगवा रहे है वही मोदी जी के समर्थन में पूरी कैबिनेट ही चौकीदार बानी बैठी है और देश के कई युवाओ ने भी अपने आप को इस मुहीम से जोड़ लिया है.

अब जब की सिर्फ तीन बाद लोकसभा चुनाव के पहले चरण का वोट डाला जाएगा उससे पहले आज बीजेपी ने अपना संकल्प पत्र जारी कर दिया है, बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह और प्रधानमंत्री मोदी की मौजूदगी में देश के गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने संकल्प पत्र जारी किया और आपको बता दे की इस मौके विदेश मंत्री सुषमा स्वराज के साथ साथ वित्त मंत्री अरुण जेटली भी मौजूद थे..

दरअसल इस बार बीजेपी ने अपने संकल्प पत्र में राष्ट्रवाद से जुड़े मुद्दे पर कठोर रुख अपनाया है, कमेटी के एक सदस्य के मुताबिक संकल्प पत्र का मसौदा तैयार कर पीएम और पार्टी अध्यक्ष अमित शाह को सौंप दिया गया था.. आपको बता दें की कई दिनों से संकल्प पत्र को लेकर पार्टी ने गहन मंथन किया था और उसके बाद पीएम ने इसमें अपने स्तर पर कुछ बदलाव और सुझाव दिए थे.

बीजेपी ने अपने चुनावी पिटारे से समाज के सभी वर्गो के लिए कुछ ना कुछ योजनाए निकाली है जिनमे से किसान और युवा ऐसा लगता है की बीजेपी की प्राथमिकता में है। भाजपा का ये संकल्प पत्र 50 पन्नों का है। गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने बताया कि घोषणापत्र बनाने के लिए 300 रथ, 7700 सुझाव पेटियां, 110 संवाद कार्यक्रम का योगदान रहा।

आपको बताते है की बीजेपी ने देश की जनता से क्या क्या वादे किये है –

राष्ट्रीय व्यापारी आयोग बनेगा, छोटे दुकानदारो और 60 साल से अधिक उम्र वाले दूकानदार को भी मिलेगी पेंशन। 2022 तक करेंगे नए भारत की स्थापना संकल्प पत्र में 75 मुख्य कदम उठाए गए है. वही युवाओं के लिए और शिक्षा के लिए लॉ एवं इंजनियरिंग कॉलेज में सीटों को बढ़ाएंगे, प्रत्येक घरो में शौचालय और साफ़ पेय जल की व्यवस्था उपलब्ध करेंगे, नेशनल हाई वे बढ़ेंगे।

  • वैश्विक समस्याओं जैसे आतंकवाद और भ्रष्टाचार के विरुद्ध बहुपक्षिय सहयोग
  • प्रवासी भारतियों के बीच पारस्परिक संवाद को बढ़ावा देने के लिए ‘भारत गौरव’ की शुरुआत
  • राजनयिक और सम्बंधित कैडरों का सशक्तिकरण
  • गंगोत्री से गंगा सागर तक गंगा नदी का स्वच्छ, निर्बाध प्रवाह सुनिश्चित करना
  • समान नागरिक संहिता लाने की दृढ़ प्रतिबद्धता
  • संवैधानिक ढांचे के तहत सभी पहलुओं पर विचार करते हुए अयोध्या में राम मंदिर के निर्माण के लिए आवश्यक प्रयास
  • गरीबी रेखा से नीचे रहने वाले परिवारों की संख्या को घटाकर 10% से भी कम करना
  • 5 किलोमीटर के दायरे में बैंकिंग सुविधाएं
  • सभी छोटे दुकानदारों के लिए पेंशन
  • तीन तलाक, निकाह हलाला जैसी प्रथाओं को प्रतिबंधित व समाप्त करने को विधेयक
  • सभी आंगनबाड़ी और आशा कार्यकर्ता को आयुष्मान भारत के तहत लाना
  • कम से कम 50% महिला कर्मचारी रखने वाले MSME उद्योगों द्वारा सरकार के लिए 10% उत्पाद खरीद
  • 200 नए केंद्रीय विद्यालयों और नवोदय विद्यालयों का निर्माण
  • वर्ष 2024 तक एमबीबीएस और स्पेशलिस्ट डॉक्टरों की संख्या दोगुनी करना
  • भारतीय शैक्षणिक संस्थानों का विश्व के शीर्ष 500 शैक्षणिक संस्थानों में स्थान

इससे पहले बीजेपी के वर्तमान अध्यक्ष अमित शाह ने बोलते हुए कहा की इन पांच सालों में 50 करोड़ गरीबों का जीवन स्तर ऊपर उठाने का भगीरथ प्रयास पीएम मोदी ने किया है और जमीनी स्तर पर मोदी सरकार को सफलता मिली है।

Facebook Comments