अमेरिका का बयान : भारत की अगली सैन्य कार्यवाही से बड़ा खतरा पैदा हो सकता है .

14 feb को पुलवामा में हुए आतंकी हमले के बाद से ही भारत और पाकिस्तान के बीच तनाव है ! 26 feb को भारत ने पाकिस्तान में घुसकर एयर स्ट्राइक की जिसमे 350 से अधिक दुर्दांत आतंकी मारे गए और 27 feb को भारत की सीमा में पाक के विमान घुस आये जिसको मार गिराया गया और हमारे कमांडर उनके कब्जे में आ गए जिन्हें आज रिहा किया गया है..

भारतीय कमांडर को छोड़ने की कार्यवाही को इमरान खान ने शांति कायम करने की एक कोशिश बताया है और उन्हें उम्मीद है की दोनों रिश्तो में तनाव अब कम हो सकता है वही इस पुरे मसले पर अब अमेरिका का एक बड़ा बयान आया है.

अमेरिका ने परमाणु शक्ति संपन्न दोनों देशों से तनाव कम करने के लिए तुरंत कदम उठाने की अपील की. अमेरिका ने दोनों देशों से सैन्य कार्रवाई न करके बातचीत का रास्ता अपनाने को कहा है. अमेरिका ने आगाह किया कि आगे से किसी भी ओर से की गई सैन्य कार्रवाई से दोनों देशों के लिए जोखिम की आशंका स्वीकार कर सकने की स्थिति से भी बहुत ज्यादा है.

अमेरिका के विदेश मंत्रालय ने एक बयान जारी कर कहा है की क्रॉस बॉर्डर टेरेरिज्म और भारत के सुरक्षाबल सीआरपीएफ पर हमला इलाके की सुरक्षा के लिए बड़ा खतरा दिखाता है.

आगे वो कहते है की हम पाकिस्तान को फिर से संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की प्रतिबद्धताओं का हवाला देते हैं और आतंकियों को पनाह देने और उनकी फंडिंग रोकने को कहते हैं.

Facebook Comments