नारी तू नारायणी : शहीद हुए मेजर महादिक की पत्नी गौरी महादिक होने वाली है सेना में शामिल

army-major-prasad-mahadik-s-wife-gauri-mahadik-will-join-indian-army

आज के इस दौर में हमें महिला सशक्तिकरण और फेमिनिज्म की तख्ती उठाये हुए कई महिला संघटन मिल जाते है जिनका वास्तविक उद्देश्य सिर्फ महिला और पुरुष के संबंधो में खाई पैदा करना होता है.

महिला सशक्तिकरण का अर्थ पुरुषो को गालिया देना नहीं बल्कि कंधे से कंधे मिलाकर उनका साथ देना होता है और इसे चरितार्थ करके दिखाया है गौरी महादिक ने जो की मेजर प्रसाद महादिक की पत्नी हैं जो साल 2017 में भारत-चीन सीमा पर अरुणाचल प्रदेश में शहीद हो गये थे.

उनके बलिदान के बाद उन्होंने भी यह निर्णय लिया की वो भी अपने पति की तरह की देश सेवा करेगी और उसके लिए उन्होंने सेना को ही अपना माध्यम बना लिया, दरअसल दिसंबर 2017 में अरुणाचल प्रदेश जे तवांग में भारत-चीन सीमा पर उनके पति और मेजर प्रसाद महादिक अस्थाई चौकी पर थे जहां फायरिंग में वो देश के लिए शहीद हो गये थे.

गौरी कहती है की प्रसाद महादिक के जाने के 10 दिन बाद मैंने सोचा अब मुझे क्या क्या करना चाहिए और फिर मैंने फैसला किया कि मुझे उनके लिए कुछ करना चाहिए और मैंने ये सोच लिया कि मुझे सेना में शामिल होकर सितारे पहनने हैं..

बताते चले की गौरी ने चेन्नई स्थित ऑफिसर्स ट्रेनिंग अकादमी में ट्रेनिंग ली है और अगले साल 2020 में वो सेना में शामिल होने के लिए तैयार हैं, आगे वो कहती है की उन्हें वॉर विडोज के लिए गैर-तकनीकी श्रेणी में लेफ्टिनेंट नियुक्त किया जायेगा..

Facebook Comments