हो जाइए सावधान : देश में स्वाइन फ्लू से मरने वालो का आकड़ा बढ़ रहा है

swine-flu-deaths-in-india-state-wise-data

आज़ादी के 70 सालो के बाद भी देश की स्वास्थ्य सुविधाये किस स्तिथि में है इस बात का अंदाज़ा आप इस बात से लगा लीजिये की देश में हर साल हजारो लोग एक ऐसी बीमारी से मर जाते है जिनके बारे में उनको पता भी नहीं होता और ना ही राज्य सरकारे इन सब बातो को लेकर गंभीर होती है.

कुछ सालो से इस देश में स्वाइन फ्लू नाम की बीमारी धीरे धीरे अपने पैर पसार रही है लेकिन सरकार ने अब भी इस बीमारी को लेकर ना कोई ठोस निति बनायीं है और ना ही कोई रिसर्च सेन्टर स्थापित किया गया है.

आपको यह जानकर आश्चर्य होगा की देश में पिछले सप्ताह एच1एन1 विषाणु यानी स्वाइन फ्लू से 65 लोगों की मौत हो गई. इस तरह स्वाइन फ्लू से इस साल मरने वालों की कुल संख्या बढ़कर 377 हो गई है.

खुद केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय का यह मानना है की स्वाइन फ्लू से प्रभावित लोगों की संख्या 12 हजार से अधिक है वही  राजस्थान में स्वाइन फ्लू के सर्वाधिक 3,508 मामले सामने आए, जिसमें से 127 लोगों की मौत हो गई.

इस मामले में गुजरात दूसरे नंबर पर है, जहां इस विषाणु से 1,983 लोग प्रभावित हुए जिनमें से 71 लोगों की मौत हो गई वही  दिल्ली में स्वाइन फ्लू से प्रभावित लोगों की संख्या 2,278 रही.

पंजाब में इस बीमारी के 410 मामले दर्ज किए गए जिनमें से 31 लोगों की मौत हो गई वही मध्य प्रदेश में 30 लोगों की मौत हो गई और 128 मामले सामने आए. हिमाचल प्रदेश में विषाणु से 27 लोगों की मौत हुई और 224 प्रभावित हुए.

जम्मू एवं कश्मीर में इससे 22 मौत हुई और 293 मामले दर्ज किए गए जबकि महाराष्ट्र में 17 लोगों की मौत हुई और 330 मामले सामने आए. हरियाणा में सात लोगों की मौत हुई जबकि 752 लोग इस विषाणु से प्रभावित हुए. देश के अन्य हिस्सों में शेष मौतें हुई

अगर आप इन आकड़ो पर गौर करे तो यह आकडे डराने वाले है लेकिन सरकारे अभी भी इस बात को लेकर चिंतित नहीं है और ना ही लोगो में किसी प्रकार का कोई जागरूकता अभियान चलाया जा रहा है.

 

Facebook Comments