गुर्जर आंदोलन हुआ हिंसक : सवाई माधोपुर में कल तक इंटरनेट बंद

gurjar-andolan-continues-on-fifth-day-internet-services-shut-in-sawai-madhopur

2006 से शुरू हुआ गुर्जर आरक्षण का मामला 13 साल बाद भी बदस्तूर जारी है और सत्ता में बैठी सरकारे सिर्फ अपने सियासी फायदे के लिए झूठे आश्वासन के अलावा इन्हें कुछ नहीं देती और राज्य की जनता को उसका खामियाजा भुगतना पड़ता है.

दिसम्बर में सत्ता परिवर्तन के साथ ही एक बार फिर राजस्थान में गुर्जर आन्दोलन में तेजी आ गयी है, पांच प्रतिशत आरक्षण की मांग को लेकर गुर्जर एक बार फिर आंदोलन कर रहे हैं. गुर्जर राज्य में रेल रोको आंदोलन कर रहे हैं और उनके नेता कर्नल किरोड़ी लाल बैंसला भी पटरी पर बैठ गए हैं.

गुर्जर नेता दिल्ली-मुंबई रेल मार्ग पर पटरियों पर बैठे हैं जिससे कई प्रमुख ट्रेन रद्द कर दी गई हैं या उनके मार्ग में बदलाव किया गया है. राज्य में कई सड़क मार्ग भी बंद हैं. आंदोलन को उग्र होता देख एहतियात के तौर पर सवाई माधोपुर में बुधवार तक के लिए इंटरनेट सेवा बंद कर दी गई है.

बताते चले की गुर्जर नेता विजय बैंसला ने  फिर कहा कि सरकार को वार्ता के लिए मलारना डूंगर में रेल पटरी पर ही आना होगा और आंदोलनकारी वार्ता के लिए कहीं नहीं जाएंगे. कर्नल किरोड़ी सिंह बैंसला व पूरी टीम बैठकर फैसला करेंगे.

Facebook Comments