राजीव कुमार से पूछताछ करेगी लेकिन गिरफ्तार नहीं कर पाएगी सीबीआई

rajiv-kumar-should-be-appear-before-cbi-cm-continues-dharna

पश्चिम बंगाल में सरकार बनाम सीबीआई के विवाद को लेकर मुख्यमंत्री ममता बनर्जी का धरना जारी है। कोलकाता के मेट्रो चैनल के पास ममता तीसरे दिन भी संविधान बचाओ धरने पर बैठी हैं, वही आज सीबीआई और कमिश्नर राजीव कुमार के विवाद को लेकर आज कोर्ट ने सुनवाई हुई है.

सीबीआई के मुताबिक एसआईटी की जांच में लैपटॉप, मोबाइल और अन्य सबूत पश्चिम बंगाल पुलिस ने शारदा घोटाले के मुख्य आरोपी को सौंपे थे और पुलिस कमिश्नर राजीव कुमार के निर्देशों पर काम कर रही थी.

मुख्य न्यायधीश ने कहा कि हम पुलिस कमिश्नर राजीव कुमार को जांच में सहयोग करने को कहेंगे वही अवमानना मामले में सुप्रीम कोर्ट ने कोलकाता पुलिस के कमिश्नर, डीजीपी और पश्चिम बंगाल को नोटिस जारी किया है.

अब कोलकाता पुलिस के कमिश्नर राजीव कुमार सीबीआई जांच में तटस्थ जगह शिलॉन्ग में होंगे शामिल लेकिन उन्हें गिरफ्तार नहीं किया जा सकेगा.

राजीव कुमार मेघालय के शिलांग में सीबीआई के समक्ष एक न्यूट्रल प्लेस पर पेश होंगे, वहीं ममता बनर्जी ने कहा कि यह सिर्फ मेरी जीत नहीं बल्कि देश की जीत है, संविधान की जीत है और अब इसकी अगली सुनवाई 20 फरवरी को होगी.

 

Facebook Comments