ऑस्ट्रेलिया में अडानी ग्रुप के प्रोजेक्ट का विरोध, हजारों बच्चे सड़क पर उतरे

20

भारत के दिग्गज इंडस्ट्री ग्रुप अडानी के ऑस्ट्रेलिया में लग रहे यूनिट के खिलाफ लोगों का गुस्सा फूट पड़ा है. आज हजारों बच्चे ऑस्ट्रेलिया की सड़कों पर उतरे. बच्चों ने हाथों में बैनर और तख्तियां पकड़ी हुई थीं. रैली में शामिल बच्चों ने बताया कि वे अपने भविष्य के लिए लड़ेंगे. ऑस्ट्रेलिया में अडानी का खनन प्रोजेक्ट 8 सालों से विवादों में है. पर्यावरणविदों ने इससे ग्रेट बैरियर रीफ को भारी नुकसान की चेतावनी जताई है.

इसे तब और बड़ा झटका तब लगा, जब 2015 में सिडनी की एक फेडरल कोर्ट ने प्रोजेक्ट को मिली पर्यावरणीय मंजूरी को वापस लेने का फैसला दिया. दरअसल पिछले महीने ही अडानी ग्रुप ने ऑस्ट्रेलिया में प्रस्तावित कारमाइकल कोल माइन और रेल प्रोजेक्ट को विकसित करने की अपनी महत्वाकांक्षी योजना में कुछ संशोधन करने और उसे खुद से फाइनैंस करने का फैसला लिया था.

अदानी माइनिंग के चीफ एग्जिक्यूटिव ऑफिसर लुकस डाउ ने कहा था कि आने वाले दिनों में योजना के मुताबिक नैरो-गेज रेल सॉल्यूशंस के साथ माइन के लिए कम प्रॉडक्शन को अपनाएंगे, जो करमाइकल माइन और रेल प्रोजेक्ट से जुड़े शुरुआती खतरों को समाप्त कर देगा.

कंपनी अब छोटे ओपन कट माइंस को विकसित करने की तैयारी कर रही है, जो प्रतिदिन 2.75 करोड़ टन उत्पादन करेगी. प्रोजेक्ट में होने वाला निवेश अब घटकर 2 अरब ऑस्ट्रेलियन डॉलर हो गया है, जिसे अडानी ग्रुप खुद फाइनेंस करेगी.

Facebook Comments