ब्रेक्सिट के मुद्दे पर इस्तीफ़ा नहीं दूँगी, अंजाम तक पहुंचेगा- टेरेज़ा मे

ब्रिटेन की प्रधानमंत्री टेरीज़ा मे ने ब्रेक्सिट के मुद्दे पर अपने पद इस्तीफ़ा देने से जुड़ी अटकलों को सिरे से ख़ारिज कर दिया है. उनका कहना है कि वो ब्रेक्सिट के समझौते को अंतिम पड़ाव तक पहुंचता हुआ जरूर देखेंगी.

गुरुवार को संसद में नेताओं के सवालों के जवाब देने के बाद जब वो बाहर निकलीं तो उन्होंने संवाददाताओं से बातचीत की. उन्होंने कड़े शब्दों में कहा, “जो रास्ता मैंने चुना है वो हमारे देश और लोगों के लिए सही है.” उन्होंने कहा कि मैं ये भी सुनिश्चित करने की कोशिश करूंगी कि ब्रसेल्स में (यूरोपीय संघ में शामिल देशों के राजनेताओं की बैठक) इस प्रस्ताव के मसौदे पर सहमति बने और उसके बाद इसे हमारे देश में नेताओं के सामने वोट के लिए पेश किया जा सके.

गुरुवार को ब्रिटेन में कैबिनेट की लंबी बैठक हुई जिसमें ब्रेक्सिट के मुद्दे पर चर्चा हुई. इसके बाद कई मंत्रियों ने इस्तीफ़े दिए और साथ ही टेरीज़ा मे के ख़िलाफ़ अविश्वास प्रस्ताव लाने की बात भी सुनने को मिली. यूरोपीय संघ से ब्रिटेन के अलग होने के मसले को लेकर ब्रेक्सिट सेक्रेटरी डोमिनिक राब और वर्क एंड पेंशन्स सेक्रेटरी इस्थर मैक्वे समेत दो और युवा मंत्री इस्तीफ़ा दे चुके हैं.

प्रधानमंत्री टेरीज़ा मे ने संवाददाताओं के सवालों के उत्तर देते हुए कहा, “मैं समझती हूं कि इस समझौते से कुछ लोग खुश हैं जबकि कुछ नाराज़ भी हैं. लेकिन, लोगों ने जिस फ़ैसले को चुना था ये समझौता वही डील है और ये राष्ट्र के हित में है. गुरुवार को हुई कैबिनेट बैठक में हम लोगों ने एक मसौदे पर अपनी सहमति बनाई थी. अगर हम सभी उसका समर्थन करें तो इस डील को सफल बना सकते हैं. लेकिन अगर हम इस समझौते के साथ अपने कदम आगे नहीं बढ़ाते तो किसी को नहीं पता कि इसके क्या नतीजे हो सकते हैं. लोगों को कंज़र्वेटिव पार्टी से उम्मीदें हैं.”

 

 

Facebook Comments