पेट्रोल-डीजल की कीमतों में राहत के आसार नहीं

पेट्रोल-डीजल की कीमतों को नियंत्रित करने के लिए चौतरफा बन रहे दबाव को लेकर सरकार की मुश्किलें कम नहीं हो रही हैं। सोमवार को सुबह से शाम तक उपभोक्ताओं को फौरी राहत देते की तैयारी की कवायद शाम को वित्त मंत्रालय में जाकर अटक गई। सरकार को अब ओपेक का सहारा है कि वहां कुछ उत्पादन बढ़े और दाम घटें।

दो दिन पहले भाजपा की राष्ट्रीय कार्यकारिणी में भी पेट्रोल डीजल की बात आई थी। उस समय भी कहा गया था कि सरकार स्थिति पर नजर रखे है और जरूरी कदम उठाए जाएंगे। सोमवार को विपक्ष के भारत बंद के बाद यह मुद्दा ज्यादा गरमाया। इस बीच दोपहर में केंद्रीय पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने भाजपा अध्यक्ष अमित शाह से मुलाकात की। इससे इस बात की अटकलें लगीं कि सरकार और संगठन में भी तेल की कीमतों को लेकर बात हो रही है। हालांकि प्रधान ने कहा कि उनकी मुलाकात ओडिशा के सांगठनिक व राजनीतिक मुद्दों को लेकर थी।

Facebook Comments