केंद्रीय कर्मचारियों को तोहफा, महंगाई भत्ते में 2 फीसदी का इजाफा

मोदी कैबिनेट ने बुधवार को केंद्रीय कर्मचारियों और पेंशनभोगियों के लिए महंगाई भत्ते (डीए) और महंगाई राहत (डीआर) में 2 फीसदी अतिरिक्त वृद्धि को मंजूरी दे दी है। यह फैसला एक जुलाई से प्रभावी होगा।

केंद्रीय कर्मचारियों को 7 फीसदी महंगाई भत्ता मिल रहा था। सातवें वेतन आयोग की सिफारिशों के आधार पर केंद्रीय मंत्रिमंडल ने इस साल मार्च इसे 5 फीसदी से बढ़ाकर 7 फीसदी किया था। यह बढ़ोतरी जनवरी 2018 से लागू मानी गई।

महंगाई भत्ते में इजाफे से केंद्र सरकार के 1.1 करोड़ कर्मचारियों और पेंशनभोगियों को फायदा होगा। इसमें 48.41 लाख केंद्रीय कर्मचारी और 62.03 लाख पेंशनभोगी शामिल हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में हुई केंद्रीय मंत्रिमंडल की बैठक में यह फैसला किया गया। महंगाई भत्ता बढ़ती महंगाई के असर को कम करने के लिए सरकार द्वारा दिया जाता है।

सरकारी कोष पर इसका अतिरिक्त भार भी पड़ेगा। मिली जानकारी के मुताबिक, डीए और डीआर से 6,112.20 करोड़ सालाना और वित्त वर्ष 2018-19 (जुलाई 2018 से फरवरी 2019 यानी 8 महीने) में 4,074.80 का अतिरिक्त भार पड़ेगा।

सरकार की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि केंद्रीय मंत्रिमंडल ने 1 जुलाई, 2018 से केंद्रीय कर्मचारियों को महंगाई भत्ते की अतिरिक्त किस्त और पेंशनभोगियों को अतिरिक्त राहत जारी करने की मंजूरी दे दी है। यह मूल वेतन-पेंशन पर मौजूदा 7 प्रतिशत पर 2 प्रतिशत की वृद्धि है। इस बढ़ोतरी से 48.41 लाख केंद्र सरकार के कर्मचारियों तथा 62.03 लाख पेंशनभोगियों को फायदा होगा। बयान में कहा गया है कि यह वृद्धि स्वीकृत फॉर्मूला पर आधारित है, जो सातवें वेतन आयोग की सिफारिशों पर आधारित है।

Facebook Comments