टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली ने रचा इतिहास, ब्रैडमैन और पॉन्टिंग को पछाड़ा

16

भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली पहले ऐसे कप्तान बन गए हैं जिसने विनिंग कॉज (वह मैच जिसमें जीत मिली) में सात बार से ज्यादा 200 रन बनाए हैं। बुधवार को नॉटिंगम में भारत ने इंग्लैंड के खिलाफ तीसरे टेस्ट में 203 रनों से जबरदस्त जीत दर्ज की। 5 मैचों की टेस्ट सीरीज में भारत 1-2 से पीछे चल रहा था। इस जीत के साथ ही भारत ने फिर से वापसी की है।

विराट कोहली ने ऑस्ट्रेलिया के दो बड़े बल्लेबाज डॉन ब्रैडमैन और रिकी पॉन्टिंग को भी इस मामले में पीछे छोड़ दिया है। इन दोनों ने विनिंग कॉज में 6 बार 200 का स्कोर पार किया। अगर भारतीय कप्तानों की बात करें तो केवल महेंद्र सिंह धोनी ने विनिंग कॉज में 200 का स्कोर पार किया। उन्होंने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ चेन्नै में खेले जा रहे मैच में 224 रन बनाए थे।

10वीं बार विराट कोहली ने कप्तान रहते हुए 200 से ज्यादा रन बनाए हैं जो कि किसी भारतीय कप्तान के लिए खुद में एक रेकॉर्ड है। विनिंग कॉज में इंग्लैंड के खिलाफ पहला शतक लगाकर कोहली ने इतिहास बनाया। नॉटिंगम टेस्ट की पहली पारी में उन्होंने 97 रन बनाए।

वह ऐसे पहले कप्तान बन गए जिसने 7 बार टेस्ट मैच के विनिंग कॉज में 200 से ज्यादा रन बनाए। ऑस्ट्रेलिया के दो महान बल्लेबाज डॉन ब्रैडमैन और रिकी पॉन्टिंग ने 6 बार किसी जीतने वाले मैच में 200 से ज्यादा रन बनाए। ब्रैडमैन ने 4 बार इंग्लैंड और 2 बार भारत के खिलाफ ऐसा किया। पॉन्टिंग ने पाकिस्तान व दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ 2-2 बार जबकि वेस्ट इंडीज और इंग्लैंड के खिलाफ एक-एक बार विनिंग कॉज में 200 रन बनाए।

भारतीय कप्तानों की बात करें तो विराट के अलावा केवल महेंद्र सिंह धोनी ने विनिंग कॉज में 200 रन बनाए हैं। उन्होंने फरवरी 2013 में चेन्नै में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ यह स्कोर हासिल किया था। विदेश में यह दूसरा मौका है जब विराट कोहली को मैन ऑफ द मैच अवॉर्ड दिया गया है। पहली बार जोहांसबर्ग में साउथ अफ्रीका के खिलाफ दिसंबर 2013 में उन्हें मैन ऑफ द मैच घोषित किया गया था। तब उन्होंने 215 रन (119 और 96) बनाए थे।

Facebook Comments