11 साल में ऑस्ट्रेलिया के छठे प्रधानमंत्री बने स्कॉट मॉरिसन, 45 वोटों से जीता बहुमत

ऑस्ट्रेलिया के वित्तमंत्री स्कॉट मॉरिसन को नया प्रधानमंत्री चुना गया है जो मैलकम टर्नबुल का स्थान लेंगे। पद से हटाए गए नेता मैलकम टर्नबुल के करीबी सहयोगी मॉरिसन, पार्टी के भीतर हुए मतदान में 40 के मुकाबले 45 वोटों से जीते। टर्नबुल की एक अन्य सहयोगी विदेश मंत्री जुली बिशप भी इस पद के लिए दौड़ में थीं, लेकिन वह पहले ही चरण के दौड़ में बाहर हो गईं। इसके अलावा पूर्व गृहमंत्री पिटर डटन का नाम भी काफी चर्चाओं में था। ऑस्ट्रेलिया के वित्तमंत्री स्कॉट मॉरिसन को नया प्रधानमंत्री चुना गया है जो मैलकम टर्नबुल का स्थान लेंगे। पद से हटाए गए नेता मैलकम टर्नबुल के करीबी सहयोगी मॉरिसन, पार्टी के भीतर हुए मतदान में 40 के मुकाबले 45 वोटों से जीते। टर्नबुल की एक अन्य सहयोगी विदेश मंत्री जुली बिशप भी इस पद के लिए दौड़ में थीं, लेकिन वह पहले ही चरण के दौड़ में बाहर हो गईं। इसके अलावा पूर्व गृहमंत्री पिटर डटन का नाम भी काफी चर्चाओं में था।

ऑस्ट्रेलिया ने पिछले 11 साल में अपना छठा प्रधानमंत्री चुना है। इससे पहले टर्नबुल ने कहा, ‘उन्हें एक याचिका मिली है, जिसमें कहा गया है कि उन्होंने अपनी पार्टी में बहुमत खो दिया है। ऐसे में उनकी पार्टी नया नेता चुनने का फैसला कर चुकी है।’ बता दें कि पिछले हफ्ते अविश्वास प्रस्ताव के बाद लेबर पार्टी ने फिर से सीनेट में उनके खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव पेश किया है और आकस्मिक चुनाव कराए जाने का ऐलान किया है।

बता दें कि पिछले हफ्ते अविश्वास प्रस्ताव के बाद जब फिर से सीनेट में उनके खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव पेश किया गया तो उन्होंने कहा था, ‘प्रस्ताव पारित होने पर वह राजनीति छोड़ देंगे।’ उन्होंने आगे कहा कि अगर पार्टी का नेता दोबारा चुनने का फैसला होता है तो वो अपनी उम्मीदवारी पेश नहीं करेंगे, हालांकि उन्होंने साथ ही अपने कार्यकाल को सार्थक भी बताया। यह पूछने पर कि क्या सत्ता से बाहर होने के बाद भी वह राजनीति में रहेंगे, टर्नबुल ने कहा, ‘मैंने यह स्पष्ट कर दिया है, मेरा मानना है कि पूर्व प्रधानमंत्रियों के लिए सीनेट से बाहर रहना ही बेहतर है।’

Facebook Comments