ENG v IND लॉर्ड्स टेस्ट: अंतिम एकादश को लेकर सस्पेंस, कैप्टन विराट के सामने मुश्किल

6

लंदन में मौसम ने फिर अंगडाई ली है और अब ठंडी हवाएं चल रही हैं। ऐसे में भारतीय कप्तान विराट कोहली इंग्लैंड के खिलाफ दूसरे टेस्ट के लिए अपनी रणनीति में बदलाव करने के बारे में सोच सकते हैं। भारतीय टीम सीरीज के दूसरे टेस्ट में इंग्लैंड से लॉर्ड्स मैदान पर भिड़ेगी। मेजबान इंग्लैंड पहला टेस्ट जीतकर 5 मैचों की सीरीज में 1-0 की बढ़त बनाए हुए है।

पिच के मिजाज को देखते हुए टीम इंडिया में 2 स्पिनरों के साथ उतरने पर विचार किया जा रहा है। खुद कप्तान कोहली ने भी मैच से एक दिन पहले माना था कि वह टीम संतुलन को देखते हुए 2 स्पिनरों के साथ उतरने पर विचार कर सकते हैं। हालांकि पिच को देखते हुए तो ऐसा ही माना जा रहा है कि भारतीय टीम में कुलदीप यादव या रविंद्र जडेजा में से किसी एक स्पिनर को शामिल किया जा सकता है।

क्या बोले कोहली
विराट कोहली ने मैच से पहले कहा, ‘अभी पिच देखकर आया हूं जो कभी कड़ी और बहुत शुष्क लग रही है। पिछले दो महीनों से लंदन में काफी गर्मी है। पिच पर अच्छी घास भी है और यह विकेट के लिए जरूरी भी है। दो स्पिनरों के साथ उतरने का विचार अच्छा लग रहा है लेकिन हम टीम संतुलन को देखकर फैसला करेंगे लेकिन दो स्पिनर निश्चित तौर पर टीम में जगह के दावेदार हैं।’

हार्दिक होंगे बाहर?
कैप्टन कोहली के संकेतों से लग रहा है कि लॉर्ड्स की सूखी पिच को देखते हुए रविंद्र जडेजा या चाइनामैन गेंदबाज कुलदीप यादव के रूप में दूसरा स्पिनर उतारा जा सकता है। हालांकि यह चर्चा तेज है कि यदि कुलदीप या जडेजा को टीम में जगह मिलती है तो हार्दिक पंड्या को बाहर किया जा सकता है। हालांकि एजबेस्टन टेस्ट में टीम इंडिया के बल्लेबाज संघर्ष करते नजर आए थे और हार्दिक पंड्या पेसर होने के साथ अच्छे बल्लेबाज भी माने जाते हैं। ऐसे में अंतिम एकादश के लिए विराट कम से कम दो बार जरूर सोचेंगे।

धवन की जगह पुजारा!
टीम इंडिया की अंतिम एकादश को लेकर अभी तक सस्पेंस बरकरार है लेकिन यदि नेट प्रैक्टिस को देखा जाए तो चेतेश्वर पुजारा को मौका मिल सकता है। पहले टेस्ट में वह बाहर बैठे थे और शिखर धवन ने ओपनिंग संभाली थी। धवन ने मंगलवार को नेट प्रैक्टिस भी नहीं की, जबकि पुजारा, लोकेश राहुल कैप्टन कोहली के साथ अभ्यास को उतरे।

अली या राशिद!
इंग्लैंड टीम में मोईन अली या राशिद में से किसी एक को जगह मिल सकती है क्योंकि इंग्लैंड के घातक बोलिंग अटैक को बदलना मुश्किल लग रहा है। जेम्स एंडरसन, स्टुअर्ट ब्रॉड और सैम करन ने पहले टेस्ट मे अच्छा प्रदर्शन किया था। बेन स्टोक्स की जगह टीम में आए क्रिस वोक्स यदि फिट रहे तो उनका खेलना लगभग तय माना जा रहा है जिन्हें नेट्स में चोट लग गई थी।

Facebook Comments