नहीं रहे तारक मेहता का उल्टा चश्मा के डॉ. हाथी…..

टेलीविजन का सबसे चर्चित शो तारक मेहता का उल्टा चश्मा यह एक शो है जो अपने आप में एक मिसाल है। इस श कि एक खास बात यह है की इसे हर वर्ग के लोग देखना बेहद पसंद करते है, इस शो की छोटी-छोटी से बातें भी लोगों को हसंने पर मजबुर कर देती है। शो के सारे कैरेक्टर हीट है यह हिन्दी टेलीविजन का एक ऐसा शो है जिसमें लीड रोल में कोई नहीं है इसमें जितने भी कैरेक्टर है सब बराबरा के हिस्सेदार है। चाहे बच्चों के रोल में टापू सेना हो या दुकान में काम करने वाला कैरेक्टर नाटू काका और बाघ। यह सारे कैरेक्टर दर्शकों के दिलों में एक अलग छाप बनाई हुई है।

लेकिन एक बेहद ही दुख की खबर आज सुबह आई है । इस शो के सुपर हीट कैरेक्टर जिसे लोग डॉ. हाथी यानि कि कवि कुमार आजाद का आज निधन हो गया है। कॉमेडी सीरियल ‘तारक मेहता का उल्टा चश्मा’ में डॉ. हंसराज हाथी गोकुलधाम सोसाइटी के ऐसे सदस्य थे, जिनसे हर कोई प्यार करता था, और वे दर्शकों समेत पूरी सोसाइटी के चहेते थे।

आपको बता दे कि ‘तारक मेहता का उल्टा चश्मा में कवि कुमार आजाद डॉ. हाथी के किरदार में थे, और वे हमेशा खाना खाने के दीवाने रहते थे। शो में वे डॉक्टर थे, लेकिन ओवरवेट डॉक्टर थे। कवि कुमार आजाद का निधन हार्ट अटैक की वजह से हुआ है, और जिस समय उन्हें दिल का दौरा पड़ा वे घर पर थे।

डॉ. हाथी बॉलीवुड में भी काम कर चुके हैं। साल 2000 में आई आमिर खान की फिल्म ‘मेला’ में वो नजर आए थे। इसके अलावा डॉ. हाथी ने परेश रावल के साथ ‘फंटूश’ जैसी फिल्मों में भी काम किया था।

Facebook Comments