Home मनोरंजन Trailer: 2 साल की पीहू घर में अकेली है डरी हुई है, ट्रेलर बढ़ा देगा धड़कनें!

Trailer: 2 साल की पीहू घर में अकेली है डरी हुई है, ट्रेलर बढ़ा देगा धड़कनें!

1 second read
0
1
1,077

किसी एक सोसाइटी में बड़ी सी बिल्डिंग के ऊपर का फ्लोर है जिसपर एक 2 साल की बच्ची है घर के बेडरूम में पीहू और और उसकी माँ हैं. पीहू सोकर उठती है अपने फ़ोन से खेलती है अपनी माँ को उठाती है लेकिन उसकी माँ नहीं उठती क्यूंकि उसकी मौत हो चुकी है लेकिन उस 2 साल की पीहू को मौत का क्या मतलब पता होगा भला. इसलिए वो रोते हुए कई बार कोशिश करती है चीखती है चिल्लाती है, माँ उठो ना, मुझे भूख लगी है, मुझे डर लग रहा है. पीहू की हर कोशिश नाकामयाब हो जाती है. खेलते खेलते वो खुद को फ्रिज में बंद कर लेती है. पीहू भूख से तड़प रही है घर में इधर उधर जा रही है. खाने के लिए कभी गैस पर ब्रेड सेकने की कोशिश करती है तो कभी अपनी डॉल से खेलने लगती है. इस सबके बीच अचानक पीहू फ्लैट की बालकनी में जा पहुंची और रैलिंग पर चढ़कर नीचे झाँकने लगती है. इसके बाद जो हुआ शायद उसके लिए आपको इस देखने के लिए रिलीजिंग डेट का इंतज़ार करना होगा.

डायरेक्टर विनोद कापड़ी की अपकमिंग सस्पेंस थ्रिलर फिल्म पीहू का ट्रेलर रिलीज हो गया है. 2 मिनट 5 सेकंड का यह ट्रेलर रोंगटे खड़े करने वाला है. फिल्म की कहानी 2 साल की पीहू (पीहू मायरा विश्वकर्मा) के इर्द-गिर्द घूमती है, जो घर में हुई अनहोनी से बेखबर है. उसकी मां की मौत हो चुकी है. लेकिन वह उसे आवाज लगाकर जगाने की कोशिश करती है.

ट्रेलर को मिलियंस में देखा जा चुका है

इस फिल्म की रिलीजिंग का इंतज़ार काफी वक़्त से किया जा रहा था क्यूंकि ये फिल्म काफी वक़्त से तैयार थी. जब इसे नवंबर 2017 में फिल्म फेस्टिवल ऑफ़ इंडिया में दिखाया गया तो इसने खूब सुर्खियाँ बटोरी तब से सभी की बेकरारी बढती जा रही थी. उसके बाद ये फिल्म कई बार लोगों की जुबां पर रही. इस फिल्म को देखते वक़्त आप खुद को पूरी तरह ट्रेलर में डूबा हुआ पाएंगे. आप ये भूल जाएंगे कि ये फिल्म है और आपका दिल करेगा कि आप स्क्रीन में अंदर घुसकर पीहू की मदद करें. एक वक़्त तो ऐसा भी आएगा जब आप अपनी कुर्सी को कसकर पकड़ लेंगे. फिल्म डायरेक्टर विनोद कापड़ी का दावा है कि जो भी इस फिल्म को देखेगा उसे अपने परिवार के लिए एक नई दिशा ज़रूर मिलेगी. साथ ही ये भी कहा जा रहा है कि असली पीहू की कहानी फिल्म खत्म होने के बाद जो देखेगा उसके मन में शुरू होगी.

पीहू के संग फिल्म के डायरेक्टर विनोद कापड़ी

बड़े परदे पर आएगा “मोहल्ला अस्सी” का इतिहास : जानिये कब आएगी फिल्म

ट्रेलर छोड़ जाता है कई सवाल

आखिर क्या हुआ पीहू की माँ को जो वो उठ नहीं रही और उसकी मौत कैसे हो गई? आखिर पीहू और उसकी माँ की मदद के लिए कोई क्यूँ नहीं आया? आखिर उस बच्ची ने अपना गुज़ारा कैसे किया होगा? डॉल के गिरने के बाद पीहू का क्या हुआ? जब घर में पीहू की नासमझी से एक छोटा धमाका हुआ तो कहीं पीहू को चोट तो नहीं लगी? पीहू जब फिसल गई तो कहीं उसे ज्यादा चोट तो नहीं आई? ऐसे बहुत से सवाल हैं जो आपको इस फिल्म को देखने के लिए मूवी थिएटर तक खींच कर ले जाएंगे. ये फिल्म लम्बे इंतज़ार के बाद 16 नवंबर को रिलीज़ हो रही है.

कई फेस्टिवल में जा चुकी है फिल्म

फिल्म सच्ची घटना पर आधारित है, जिसे देश-विदेश में कई अवॉर्ड मिल चुके हैं. इसे ईरान, पाम स्प्रिंग्स, जर्मनी, मोरक्को और वैंकुअर समेत कई इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल्स में दिखाया जा चुका है. अब देखना यह है कि मिस टनकपुर हाजिर हो जैसी फिल्में बना चुके विनोद कापड़ी की पीहू लोगों को कितनी पसंद आती है.

Load More Related Articles
Load More By Tushar Kaushik
Load More In मनोरंजन

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

1971 हीरो: नहीं रहे ब्रिगेडियर चांदपुरी, 2000 दुश्मनों को चटाई थी धूल

बॉर्डर फिल्म में सनी देओल ने जिस असल किरदार को निभाया था आज वो असल किरदार हम सभी को नम आँख…