Home दुनिया अंतरिक्ष में भारत को टक्कर देने के लिए पाक ने चीन से मांगी मदद

अंतरिक्ष में भारत को टक्कर देने के लिए पाक ने चीन से मांगी मदद

2 second read
0
0
67

सरहद से लेकर खेल के मैदान तक भारत से टक्कर लेने वाला पाकिस्तान अब अन्तरिक्ष में भी भारत को शिकस्त देने और खुद को अन्तरिक्ष में स्थापित करने की नीयत से 2022 में पहली बार अपने नागरिक को अंतरिक्ष में भेजेगा। इसमें उसकी मदद करेगा उसका दोस्त चीन. पाकिस्तान के सूचना मंत्री फवाद चौधरी ने गुरुवार को इसकी घोषणा की। भारत ने भी 2022 में अपना पहला मानव मिशन लॉन्च करने का प्लान बनाया है।

ये भी पढ़ें: कभी नहीं सुधरेगा पाकिस्तान, हटाये हाफ़िज़ पर लगाये प्रतिबंध

चीन ने 2003 में पहली बार अपने किसी नागरिक को अंतरिक्ष में भेजा था। वह रूस और अमेरिका के बाद मानवयुक्त अंतरिक्ष उड़ान पूरा करने वाला दुनिया का तीसरा देश है। पाकिस्तान और चीन हथियारों की खरीद को लेकर एक समझौता कर चुके हैं। इस्लामाबाद चीनी हथियारों के सबसे बड़े खरीदारों में से एक है। इसके अलावा पाकिस्तान ने चीन के प्रक्षेपण यान की मदद से पिछले साल दो सैटेलाइट भी लॉन्च किए थे। फवाद के मुताबिक, पाकिस्तान स्पेस एंड अपर एटमॉसफेयर रिसर्च कमीशन (एसयूपीएआरसीओ) और चीन की एक कंपनी इस संबंध में पहले ही समझौता कर चुकी है। फवाद ने बताया कि प्रधानमंत्री इमरान की अध्यक्षता वाली कैबिनेट ने गुरुवार को इस प्रोजेक्ट को मंजूरी दे दी है।

3 नवंबर को बीजिंग जाएंगे इमरान

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान अगले महीने चीन की अपनी पहली आधिकारिक यात्रा पर जाएंगे, जहां वह हर स्थिति में साथ रहने वाले इन दोनों देशों के बीच आर्थिक एवं सामरिक संबंधों को मजबूत करने पर चर्चा करेंगे। विदेश मंत्रालय ने यहां एक बयान में कहा कि खान को चीन सरकार ने अपने यहां आने के लिए आमंत्रित किया है। प्रधानमंत्री 2-5 नवंबर तक चीन की अपनी पहली आधिकारिक यात्रा पर जाएंगे। उनके साथ विदेश मंत्री समेत एक उच्च-स्तरीय प्रतिनिधमंडल भी होगा। विदेश मंत्रालय ने कहा कि यह यात्रा दोनों के बीच निकटता और पारंपरिक गर्मजोशी का प्रतीक है जो पाकिस्तान-चीन की हर स्थिति में रणनीतिक सहकारी साझेदारी की विशेषता को प्रकट करता है। खान चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग और प्रधानमंत्री ली केकियांग के साथ चर्चा करेंगे और दोनों देश द्विपक्षीय संबंधों के सभी आयामों की समीक्षा करेंगे जिसका पारस्परिक विश्वास और समर्थन का लंबा इतिहास रहा है।

Load More Related Articles
Load More By Tushar Kaushik
Load More In दुनिया

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

1971 हीरो: नहीं रहे ब्रिगेडियर चांदपुरी, 2000 दुश्मनों को चटाई थी धूल

बॉर्डर फिल्म में सनी देओल ने जिस असल किरदार को निभाया था आज वो असल किरदार हम सभी को नम आँख…