Home दुनिया बिस्तर पर अपनी आखिरी साँसें गिन रहा है आतंकी मसूद अजहर!

बिस्तर पर अपनी आखिरी साँसें गिन रहा है आतंकी मसूद अजहर!

1 second read
0
0
98

पाकिस्तान स्थित आतंकवादी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के मसूद अजहर को जानलेवा बीमारी होने की खबर है। भारतीय खुफिया विभाग के अधिकारी ने बताया है कि मसूद अजहर की तबीयत बेहद खराब है। खराब स्वास्थ्य के चलते उसका बिस्तर से उठना मुश्किल हो गया है। मसूद के भाई रऊफ असगर और अतहर इब्राहिम अब संगठन की जिम्मेदारी संभाल रहे हैं और भारत व अफगानिस्तान में आतंकी गतिविधियां संचालित कर रहे हैं।

खुफिया विभाग के अधिकारी ने पहचान न बताने की शर्त पर बताया कि ऐसा माना जा रहा है कि मसूद की रीढ़ की हड्डी और किडनी का इलाज रावलपिंडी के कंबाइंड मिलिटरी हॉस्पिटल में किया गया है। जिसके चलते वो कम से कम डेढ़ साल तक बिस्तर पर ही रहेगा। हालांकि, भारतीय राजनयिकों ने मसूद की बीमारी की पुष्टि नहीं की है। लेकिन उनका कहना है कि आतंकी नेता जिसका नाम संयुक्त राष्ट्र द्वारा वैश्विक आतंकवादी (भारत द्वारा) के रूप में नामित किया गया है, वो जनता के बीच या फिर अपने गृह नगर भावलपुर में भी नहीं देखा गया है।

भारतीय राजनयिकों का कहना है कि अजहर की बीमारी की पुष्टि तो नहीं की जा सकती। लेकिन आतंकवादी नेता जिसका नाम संयुक्त राष्ट्र द्वारा वैश्विक आतंकवादी (भारत द्वारा प्रायोजित एक कदम) के रूप में नामित किया गया था, वह बीमार है।

यह भारत के लिए एक राहत की बात है। एक विशेषज्ञ का कहना है अजहर को वैश्विक आतंकी वाली बात पर चीन हमेशा से ही रोड़े अटकाता रहा है। अब भारत को इसके लिए चीन से रियायत की कोई जरूरत नहीं है क्योंकि आतंकी तो खुद कई बीमारियों से पीड़ित हो चुका है।

भारतीय खूफिया अधिकारी साल 2001 में संसद पर हुए हमले, 2005 में अयोध्या पर हुए हमले और 2016 को पठानकोट एयरबेस पर हुए हमले के लिए अजहर को ही जिम्मेदार मानते हैं। यह हमले काफी हद तक सफल भी हुए। इनका उद्देष्य भारत में सांप्रदायिकता को खतरा पहुंचाना और पाकिस्तान के साथ भारत की शत्रुता बढ़ाना था। वहीं अगर उसके भाई रौफ असगर की बात करें तो वह भी भारत के खिलाफ आंतकवादी अभियान चलाता है। मुख्य रूप से वह जम्मू और कश्मीर को निशाना बनाता है।

Load More Related Articles
Load More By Tushar Kaushik
Load More In दुनिया

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

बीजेपी के लिए बुरा दिन, काम नहीं आये अली या बजरंगवली!

मध्य प्रदेश – 230/230 || कांग्रेस- 110    || बीजेपी- 110     || अन्य- 10 राजस्थान – 199/20…