Home उत्तर प्रदेश कुख्यात गैंगस्टर मुन्ना बजरंगी की बागपत जेल में गोली मारकर हत्या

कुख्यात गैंगस्टर मुन्ना बजरंगी की बागपत जेल में गोली मारकर हत्या

0 second read
Comments Off on कुख्यात गैंगस्टर मुन्ना बजरंगी की बागपत जेल में गोली मारकर हत्या
0
106

उत्तर प्रदेश की बागपत जिला जेल में अंडरवर्ल्ड डॉन प्रेम प्रकाश सिंह उर्फ मुन्ना बजरंगी की गोली मारकर हत्या कर दी गई है। इस वारदात के बाद जेल प्रशासन से लेकर लखनऊ तक अधिकारियों में हड़कंप मच गया है। यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने हत्याकांड की न्यायिक जांच का आदेश दिया है। वहीं, एडीजी जेल चंद्रप्रकाश ने जेलर समेत चार जेलकर्मियों को सस्पेंड कर दिया है। बागपत जेल में ही बंद गैंगस्टर सुनील राठी का इस हत्याकांड में नाम सामने आया है। वहीं, हत्या की तफ्तीश के लिए बागपत जेल में एक जांच टीम भी पहुंच चुकी है।

‘गैंगस्टर सुनील राठी ने मारी गोली’
मुन्ना बजरंगी की हत्या पर यूपी के एडीजी जेल चंद्रप्रकाश का बयान सामने आया है। उनका कहना है, ‘सुबह 6 बजे बागपत जिला जेल में मुन्ना बजरंगी की हत्या पर यूपी के एडीजी जेल चंद्रप्रकाश का बयान सामने आया है। उनका कहना है, ‘सुबह 6 बजे बागपत जिला जेल में झगड़े के दौरान मुन्ना बजरंगी को गोली मारी गई। गैंगस्टर सुनील राठी ने मुन्ना को गोली मारने के बाद हथियार एक गटर में फेंक दिया।’

उन्होंने साथ ही कहा, ‘यह जेल की सुरक्षा में गंभीर चूक का मामला है। जेलर उदय प्रताप सिंह, डेप्युटी जेलर शिवाजी यादव, हेड वॉर्डन अरजिन्दर सिंह और वॉर्डन माधव कुमार को सस्पेंड कर दिया गया है। इस पूरे मामले की जुडिशल इंक्वॉयरी होगी। साथ ही पैनल पोस्टमॉर्टम कराया जाएगा।’

जेलर समेत 4 सस्पेंड, न्यायिक जांच का आदेश
इस बीच जेल में मुन्ना बजरंगी की हत्या के मामले में जुडिशल इंक्वॉयरी के भी आदेश दे दिए गए हैं। मुन्ना बजरंगी की पत्नी ने पहले ही जेल में हत्या की आशंका जाहिर की थी। ऐसे में जेल के अंदर ही सनसनीखेज तरीके से हत्या होने के बाद कई सवाल खड़े हो रहे हैं।

सीएम योगी आदित्यनाथ ने इस घटना की न्यायिक जांच का आदेश देते हुए कहा, ‘मैंने न्यायिक जांच के साथ ही जेलर को सस्पेंड करने के आदेश दिए हैं। जेल के अंदर इस तरह की वारदात होना गंभीर मसला है। हम इस मामले की गहराई से जांच कराएंगे और जो भी दोषी पाया जाएगा उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई होगी।’

सुनील राठी गैंग का हाथ
मुन्ना बजरंगी की हत्या के पीछे वेस्ट यूपी और उत्तराखंड में सक्रिय सुनील राठी गैंग के शूटरों का हाथ बताया जा रहा है। इस बीच मुन्ना बजरंगी की पत्नी सीमा सिंह परिवारवालों के साथ सीएम योगी आदित्यनाथ से मिलने वाली हैं। रंगदारी से जुड़े एक केस के सिलसिले में मुन्ना बजरंगी की सोमवार को बागपत कोर्ट में पेशी होनी थी।

रविवार को ही झांसी से किया गया था शिफ्ट
रविवार रात को ही मुन्ना बजरंगी को झांसी जेल से बागपत जेल ट्रांसफर किया गया था। सोमवार को बागपत में रेलवे से जुड़े एक मामले में सुनवाई थी। इसी सिलसिले में रविवार की रात 9 बजे ही मुन्ना बजरंगी को बागपत जेल में शिफ्ट किया गया था।

पूर्वांचल के बड़े अपराधियों में गिनती
मुन्ना बजरंगी की गिनती पूर्वांचल के कुख्यात अपराधियों में होती है। कई बड़ी आपराधिक वारदातों में बजरंगी का नाम सामने आया था। मुन्ना बजरंगी के परिजनों ने पहले ही आशंका जताई थी कि बागपत जेल में उनकी हत्या हो सकती है। 29 जून को प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान मुन्ना बजरंगी की पत्नी सीमा सिंह ने कहा था कि जेल में उनके पति की जान को खतरा है।

परिवार ने जताई थी हत्या की आशंका
उन्होंने हत्या की साजिश का आरोप लगाते हुए यूपी प्रेस क्लब में प्रेसवार्ता की थी। इस दौरान उनके साथ मुन्ना बजरंगी के वकील विकास श्रीवास्तव भी मौजूद थे। सीमा सिंह ने अपने पति मुन्ना बजरंगी को यूपी स्पेशल टास्क फोर्स (एसटीएफ) और पुलिस के उच्चाधिकारियों द्वारा फर्जी एनकाउंटर में मारे जाने की साजिश रचने का आरोप लगाया था।

कुछ प्रभावशाली व्यक्तियों का बगैर नाम लिए सीमा सिंह ने कहा था कि साजिश रचकर कई बार उनके पति को जेल में ही जान से मारने का प्रयास किया जा चुका है। इस संबंध में सीमा सिंह ने पुलिस के कई बड़े अधिकारियों के खिलाफ न्यायालय में भी शिकायत की थी।

Load More Related Articles
Load More By Swentoday News
Load More In उत्तर प्रदेश
Comments are closed.

Check Also

रायबरेली: न्यू फरक्का एक्सप्रेस की 6 बोगियां पटरी से उतरीं

उत्तर प्रदेश के रायबरेली में बुधवार तड़के न्यू फरक्का एक्सप्रेस की 6 बोगियां पटरी से उतर ग…