Home उत्तर प्रदेश यूपी सरकार का बड़ा फैसला, प्लास्टिक पर लगाया बैन

यूपी सरकार का बड़ा फैसला, प्लास्टिक पर लगाया बैन

0 second read

हम सभी जानते हैं कि प्लास्टिक पर्यावरण के लिए कितनी हानिकारक हैं। इससे होने वाले खतरे से भी कोई अछूता नहीं रहा हैं। अभी हाल ही में महाराष्ट्र में प्लास्टिक पर बैन लगा हैं यही नहीं महाराष्ट्र समेत 18 राज्य इससे होने वाले खतरे को भांप कर इस पर बैन लगा चुके हैं। अब इसी प्लास्टिक बैन की सूची में एक नाम औऱ जुड़ गया हैं। दरअसल अब यूपी में भी प्लास्टिक के इस्तेमाल करने पर बैन लग गया हैं। यूपी के सीएम योगी अदित्यनाथ ने शुक्रवार को इस बात की घोषणा कर दी हैं कि 15 जुलाई से पूरे राज्य में प्लास्टिक पर बैन लागू हो जाएगा।

बता दें कि 18 राज्यों में बैन लगने के बाद अब यूपी 19वां ऐसा राज्य बन गया हैं जहां प्लास्टिक पर बैन घोषित कर दिया गया हैं। योगी सरकार 15 जुलाई से प्लास्टिक पर बैन लगाने जा रही हैं औऱ अभी फिलहाल सरकार 50 माईक्रॉन से पतली प्लास्टिक पर बैन लगा रही हैं। जानकारी के मुताबिक यदि कोई नियम का उल्लंघन करता हुआ पाया जाता है तो उस पर 50 हजार रुपए तक का जुर्माना लगाया जा सकता है। सूबे के सीएम योगी आदित्यनाथ ने जनता से अपील की हैं कि सभी इस प्लास्टिक बंदी में सहयोग करें। उन्होंने कहा कि 15 जुलाई के बाद प्लास्टिक के कप, ग्लास और पॉलिथीन का इस्तेमाल किसी भी स्तर पर न हो, यह सुनिश्चित किया जाए।

योगी सरकार इसे लागू करने में कोई कोर-कसर नहीं छोड़ना चाहती इसलिए पूरी तैयारी के साथ बैन लागू करना चाहती है। सीएम योगी ने हाल ही में इस संबंध में दिशा निर्देश जारी किए थे। इसके साथ ही कई मौकों वह जनता से इस मुहिम को सफल बनाने के लिए प्लास्टिक इस्तेमाल न करने की अपील भी कर चुके हैं।

आपको बता दें, यह पहली बार नहीं है जब प्रदेश में प्लास्टिक बैन की मुहिम जोर पकड़ रही है। इससे पहले सपा सरकार ने 2015 में पॉलिथिन पर प्रतिबंध लगाया था। सरकार ने इन्वॉयरमेंट प्रोटेक्शन एक्ट में संशोधन करते हुए प्लास्टिक बैग इस्तेमाल करने पर छह महीने की सजा और पांच लाख रुपये जुर्माना देने का नियम बनाया था। लेकिन यह नियम कागजों तक ही सीमित रह गया।

गौरतलब है कि महाराष्ट्र सरकार ने जून माह में प्रदेश में सभी प्रकार की प्लास्टिक के प्रयोग पर बैन लगा दिया है। इतना ही नहीं सरकार ने इस्तेमाल करते पकड़े जाने पर भारी जुर्माने का प्रावधान भी किया है। इसके मुताबिक पहली बार पकड़े जाने पर 5 हजार रुपए, दूसरी बार में 10 हजार व तीसरी बार में 25 हजार और 3 महीने जेल का जाने का कड़ा जुर्माना लगाया गया है।

Load More Related Articles
Load More By Editor SwenToday
Load More In उत्तर प्रदेश
Comments are closed.

Check Also

दागी नेताओं के चुनाव लड़ने पर रोक नहीं, सुप्रीम कोर्ट ने कहा- संसद बनाए कानून

दागी नेताओं के चुनाव लड़ने के मामले पर सुप्रीम कोर्ट ने आज अपना फैसला सुना दिया। कोर्ट ने …