Home उत्तर प्रदेश सांसद के यहां मजदूरी न मिलने पर हाईटेंशन लाइन के पोल पर चढ़ा युवक

सांसद के यहां मजदूरी न मिलने पर हाईटेंशन लाइन के पोल पर चढ़ा युवक

2 second read

यूपी के हरदोई जिले में गुरुवार देर रात उस वक्त हड़कंप मच गया जब एक युवक बिजली की हाईटेंशन लाइन के टावर पर चढ़ गया। वह युवक हरदोई के सदर से बीजेपी सांसद अंशुल वर्मा को बुलाए जाने की मांग करने लगा। उसका आरोप था कि सांसद के यहां काम करने पर उसकी दिहाड़ी उसे नहीं दी गई।

प्रशासन को खबर मिलने के बाद हड़कंप मच गया। आनन-फानन में बिजली आपूर्ति ठप्प कराई गई, जिससे घंटों शहर अंधेरे में रहा। किसी तरह युवक नीचे उतरा तो पुलिस ने उसका मेडिकल कराया गया और अब पीड़ित को ही जेल भेजने की तैयारी की जा रही है। यह मामला हरदोई जिले के कोतवाली देहात के कटैया गांव का है, जहां देर रात कोथावा थाना बेनीगंज का रहने वाला सोनू वर्मा हाईटेंशन लाइन के पोल पर चढ़ गया।

आनन-फानन में इलाके के लोगों ने प्रशासन को सूचना दी तो प्रशासन में खलबली मच गई। प्रशासन ने पीड़ित से लाख मिन्नतें कीं, लेकिन युवक सिर्फ हरदोई के सदर से बीजेपी सांसद अंशुल वर्मा को बुलाए जाने की जिद पर अड़ा रहा।
सांसद के पीए ने दिए बकाया, तब उतरा
युवक हाईटेंशन लाइन के पोल पर चढ़ा रहा, नीचे पुलिस उतरने की मिन्नतें करती रही। घंटों चले इस हाई प्रोफाइल ड्रामे के बाद जब सांसद अंशुल वर्मा के प्रतिनिधि शैलेन्द सिंह मौके पर पहुंचे और बकाया रुपये देने की कही तब युवक नीचे उतरा और रुपये लिए। इसके तुरन्त बाद पुलिस ने उसे हिरासत में लिया और मेडिकल परिक्षण के लिए भेजा।

यह था पूरा मामला
दरअसल, सोनू वर्मा पिछले कई दिनों से बीजेपी सांसद अंशुल वर्मा के झबरापुरवा स्थित आवास पर पेंटिंग का काम कर रहा है। सोनू का आरोप है उसको 400 रुपये दिहाड़ी पर तय किया गया था, लेकिन बाद में सांसद अंशुल वर्मा के ड्राइवर शिशुपाल ने उसे 300 रुपये के हिसाब से ही पेमेंट किया। इसके अलावा, पिछले कई रोज़ की दिहाड़ी उसे नहीं मिली जिसके लिए उसने कई मर्तबा हिसाब के लिए बोला लेकिन कोई नतीजा नहीं निकला। सोनू के अनुसार, उसका 3 हजार रुपया नहीं मिल पा रहा था और निराश होकर उसने यह कदम उठाया।

दूसरी ओर सांसद के पीए शैलेन्द्र ने कहा कि यह सासंद को बदनाम करने की साजिश है। उन्होंने कहा, ‘सांसद जी एक नेकदिल इंसान है और अगर इसने उन्हें बताया होता तो वह दो चार हजार रुपये तो उसे ऐसे ही दे देते।’ शैलेन्द्र ने आगे बताया कि यह युवक सांसद के आवास पर छोटू नाम के ठेकेदार के अंडर में पुताई का काम करता है। सभी मजदूरों की मजदूरी का पैसा ठेकेदार को दिया जाता है और अगर ठेकेदार किसी मजदूर को पैसा ना दे तो इसमें सांसद पर आरोप लगाना ठीक नहीं है।

सीओ सिटी प्रताप सिंह चौहान ने कहा कि युवक नशे में था और पोल पर चढ़ गया लेकिन उसे समझा-बुझाकर सकुशल नीचे उतार लिया गया है। उसे मेडिकल के लिए अस्पताल भेजा गया है।

Load More Related Articles
Load More By SwenToday News Desk
Load More In उत्तर प्रदेश
Comments are closed.

Check Also

स्मृति स्थल पर अटल जी का अंतिम संस्कार, बेटी नमिता ने दी मुखाग्नि

16:56(IST) अंतिम संस्कार अटल जी की दत्तक पुत्री नमिता भट्टाचार्य कर रही हैं. The last rite…